1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Mangal Vakri 2022 : मंगल महाराज चलेंगे उल्टी चाल, इन राशि वालों का होगा मंगल

Mangal Vakri 2022 : मंगल महाराज चलेंगे उल्टी चाल, इन राशि वालों का होगा मंगल

मंगल ग्रह को शौर्य और पराक्रम का प्रतीक भी माना जाता हैं। इसका रक्तगौर रंग का माना जाता है। इसमें अग्नि तत्व की प्रधानता होती है। मंगल जब वक्री होते है राशि में स्थित ग्रह उल्टी दिशा में चलने लगता है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Grah Gochar : मंगल ग्रह को शौर्य और पराक्रम का प्रतीक भी माना जाता हैं। इसका रक्तगौर रंग का माना जाता है। इसमें अग्नि तत्व की प्रधानता होती है। मंगल जब वक्री होते है राशि में स्थित ग्रह उल्टी दिशा में चलने लगता है। ग्रह का व्यवहार उग्र हो जाता है। ग्रह की इसी अवस्था को उल्टी दिशा में गति करने की स्थिति को वक्री कहा जाता है। मंगल वक्री हो जाता है तो मनुष्य के जीवन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। मनुष्य बहुत ज्यादा वहम करने वाला, क्रोधी, उग्र और चिड़चिड़े स्वभाव का हो जाता है।मंगल पुरुष ग्रह माना गया है। यह मेष राशि और वृश्चिक राशि का स्वामी होता है। मंगल के वक्री होने से विश्व स्तरीय पर बहुत प्रभाव देखा जा सकता है।

पढ़ें :- इस तरह करें घरेलू तरीके से टोटका, नहीं लगेगी बच्चों को नजर

मंगल ग्रह 13 नवम्बर 2022 समय 01 बजकर 33 मिनट दिन रविवार को वृषभ राशि में गोचर करेंगे। यह 13 जनवरी 2023 की रात 11 बजकर 30 मिनट के बाद मार्गी होंगे।

मेष राशि
मंगल ग्रह मेष का स्वामी होने के कारण इस राशि को विशेष रूप से प्रभावित करेगा।  विदेश यात्रा पर जाने का भी योग बन रहा है।

वृषभ राशि
मंगल की वक्री गति वृषभ राशि वालों के जीवन में अनिश्चितताओं को जन्म देगी। नई संपत्ति की खरीद-फरोख्त करने से बचें।

मिथुन राशि
इस राशि के लोगों पर मंगल के गोचर का अधिक प्रभाव नहीं पड़ेगा परन्तु फिर भी उन्हें सावधान रहने की आवश्यकता है।

पढ़ें :- 4 फरवरी 2023 राशिफल: इन जातकों को आज ही मिलेगा बड़ा धन लाभ, इन्हें मिल सकता है नौकरी में प्रमोशन

कर्क राशि
वक्री मंगल के चलते कर्क राशि के जातकों के लिए समय अच्छा रहेगा बशर्ते वे एकाग्रचित्त होकर अपने लक्ष्य की ओर बढ़ते रहे।

सिंह राशि
वैसे तो सिंह के लिए मंगल का पारगमन अच्छा रहेगा परन्तु वक्री गति होने के कारण सिंह राशि वालों में ईर्ष्या, चिड़चिड़ापन और अनावश्यक गुस्से की अधिकता रहेगी। ऐसे लोगों के लिए यही सलाह है कि वे अपने गुस्से को नियंत्रित करना सीखें और चुपचाप अपना काम करते रहें।

कन्या राशि
इस राशि के लोगों को आने वाले समय में अपने पिता तथा भाईयों के साथ विवाद में उलझना पड़ सकता है। सुख-सुविधाओं में भी कमी आ सकती हैं।

तुला राशि
इस राशि के जातकों के लिए वक्री मंगल का वृषभ राशि में गोचर सौभाग्य लेकर आ रहा है। वे अपने जीवन में बहुत तरक्की करेंगे।

वृश्चिक राशि
मंगल का राशि परिवर्तन वृश्चिक राशि वालों को स्वास्थ्य की दृष्टि से भारी रह सकता है। वैवाहिक जीवन में बाधाएं आएंगी।

पढ़ें :- Aaj ka Panchang: माघ शुक्ल पक्ष चतुर्दशी, जाने शुभ-अशुभ समय मुहूर्त और राहुकाल...

धनु राशि
इस राशि के जातकों के लिए मंगल छठे भाव में होते हुए भी नौवें, ग्यारहवें तथा बारहवें भाव पर दृष्टि डाल रहा है। इसके कारण धनु राशि वालों के लिए विदेश यात्रा के योग बन रहे हैं।

मकर राशि
इस राशि वाले लोगों को अपने आप की दुनिया से बाहर निकलने की जरूरत है ताकि वे अपने चारों ओर के माहौल को समझ सके, इसका लाभ ले सकें। वक्री मंगल सफलता की नई ऊंचाइयों तक लेकर जाएगा।

कुंभ राशि
वक्री मंगल के कारण वैवाहिक संबंधों में खटास आ सकती है। खुद को मानसिक रूप से थका हुआ अनुभव करेंगे। आने वाला समय आपके लिए खुशखबरी लेकर आएगा।

मीन राशि
वक्री मंगल का गोचर मीन राशि वालों के जीवन में उथल-पुथल मचा देगा। उन्हें कभी एकदम से बहुत सारा आर्थिक लाभ होगा और कभी एकदम से उनके खर्चे बहुत ज्यादा बढ़ जाएंगे।

 

पढ़ें :- Swapna Shastra : सपने में किसी महिला से बात करना शुभ संकेत माना जाता है, जानिए इसका क्या अर्थ है
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...