1. हिन्दी समाचार
  2. मणिपुर: इंफाल में हुआ बम धमाका, 4 पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल

मणिपुर: इंफाल में हुआ बम धमाका, 4 पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल

Manipur Bomb Blast In Imphal 4 Policemen Seriously Injured

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में बीते शुक्रवार को ग्रेनेड धमाके के बाद अब मणिपुर की राजधानी इंफाल में मंगलवार सुबह हुए बम धमाके में 4 पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। आतंकी हमले में घायल हुए जवानों को नजीदी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने पूरे इलाके को खाली करा लिया है, साथ ही हमलावरों की तलाशी तेज कर दी गई है।

पढ़ें :- महिला खिलाड़ी ने तोड़ा महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड, जानिए पूरा मामला

दरअसल, पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर आस पास के लोगों को घटनास्थल से हटा दिया है। हमला पुलिस को ही निशाना बनाकर किया गया है, लेकिन इस हमले में एक शख्स भी गंभीर रूप से घायल हो गया है।

वहीं, इंफाल शहर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था होने के बावजूद यह धमाका हुआ है। अज्ञात उग्रवादियों ने बम प्लांट किया था। मणिपुर पुलिस एसपी इंफाल की अगुवाई में संदिग्धों की तलाशी कर रही है। अब तक किसी अंडरग्राउंड आउटफिट की जानकारी सामने नहीं आई है।

हैरानी की बात तो ये है कि यह घटना वहां हुई है जहां से पुलिस स्टेशन महज 150 मीटर की दूरी पर है। ब्लास्ट के एक घंटे के भीतर ही मुख्यमंत्री एन बीरेन शाह ब्लास्ट वाली जगह का दौरा किया। उन्होंने हमले को कायरतापूर्ण करार दिया है। उन्होंने इस हमले की निंदा करते हुए कहा है कि जो भी इसके दोषी होंगे, उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी।

पढ़ें :- संसद के बाद कृषि विधेयकों को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी, विपक्ष कर रहा था इसका विरोध

साथ ही सुरक्षा और फोरेंसिक विभाग के ऑपरेशन की वजह से इलाके को पूरी तरह सील कर दिया है। पुलिस के मुताबिक घायलों के नाम लामबाम अमरजित, थोंगम देवान, निंगथोजम इबोतोंबा सिंह, खुराइजम बोनी, हुइरंगबम बोबे और कृष्ण गुरुंग हैं।

बता दें, जिस इलाके में यह ब्लास्ट हुआ है, वहां बिहार के लोग ज्यादा संख्या में हैं। इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज मामले की जांच शुरू कर दी है। अब तक किसी भी उग्रवादी समूह ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

इतना ही नहीं उत्तर-पूर्वी राज्यों में मणिपुर राज्य में उग्रवाद अपने चरम पर है। हालांकि सुरक्षाबलों और स्थानीय पुलिस की सक्रियता से यहां स्थितियां सामान्य हैं। लेकिन आए दिन कोई न कोई उग्रवादी संगठन यहां पांव पसारने की कोशिश करता है। घटना के विस्तृत ब्यौरे की प्रतीक्षा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...