कुमार के करीबी मनीष सिसोदिया का दर्द, बोले-ऐसा नहीं करना चाहिए था

Manish Sisodia Ka Dard Bole Aisa Nahi Karna Chahiye Tha Kumar Ko

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी में मज़ा घमासान अब तेज़ होता दिख रहा है। अभी तक पार्टी के नेता पीठपीछे बयान बाजी करते नज़र आ रहे रहे थ लेकिन मंगलवार को पार्टी दो फाड़ होती दिखी। एक तरफ जहां कुमार विश्वास ने पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पार्टी के गतिविधियों पर सवाल उठाया वहीं इसके ठीक बाद दिल्ली के डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया ने अपने ही घनिष्ठ मित्रा कुमरा विश्वास को नसीहत दे डाली। सिसोदिया ने इशारों-इशारों में विश्वास पर बीजेपी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया। बताता चले कि अब तक जहां यह लड़ाई कुमार विश्वास बनाम अमानतुल्लाह के बीच दिख रही थी लेकिन अब विश्वास बनाम अरविंद केजरीवाल का रुख अख्तियार करती दिख रही है।



सिसोदिया ने कुमार विश्वास पर टीवी पर बयान देकर पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल तोड़ने का आरोप लगाया। साथ ही सिसोदिया ने कुमार पर आरोप लगते हुए कहा कि सब समझ रहे है कि कुमार विश्वास ऐसा कर किस पार्टी को फायदा पहुंचा रहे है। उन्होंने कहा कि यह पार्टी आंदोलन के लिए पुलिस की लाठियां खाने वाले कार्यकर्ताओं की है, न कि किसी व्यक्ति की। उन्होंने कहा कि यह केजरीवाल की भी पार्टी नहीं है। सिसोदिया ने कहा कि कोई मसला हो तो उसे व्यक्तिगत लड़ाई नहीं बनानी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘अरविंद जी ने तीन तीन घंटे बैठकर बात की है अपने घर पर। उनको पीएसी में बुलाया, वह पीएसी में नहीं आए। टीवी पर बयानबाजी कर रहे हैं। मैं कहना चाहता हूं उनसे कि टीवी पर बयानबाजी से कार्यकर्ताओं का मनोबल टूट रहा है। ये कार्यकर्ता पुलिस से पिटे हैं। ये कार्यकर्ता जेल गए हैं। इन कार्यकर्ताओं का मनोबल ऐसी बातों से टूटता है कि पार्टी के नेता पीएसी में बात नहीं करते हैं, टीवी पर बयानबाजी करते हैं।’

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी में मज़ा घमासान अब तेज़ होता दिख रहा है। अभी तक पार्टी के नेता पीठपीछे बयान बाजी करते नज़र आ रहे रहे थ लेकिन मंगलवार को पार्टी दो फाड़ होती दिखी। एक तरफ जहां कुमार विश्वास ने पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पार्टी के गतिविधियों पर सवाल उठाया वहीं इसके ठीक बाद दिल्ली के डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया ने अपने ही घनिष्ठ मित्रा कुमरा विश्वास को नसीहत दे डाली। सिसोदिया ने इशारों-इशारों में विश्वास पर बीजेपी…