मणिशंकर अय्यर के फिर बिगड़े बोल, शाहीन बाग में कहा- ‘अब देखना है कि हमारा हाथ मजबूत है या उस कातिल का’

ayyar
मणिशंकर अय्यर के फिर बिगड़े बोल, शाहीन बाग में कहा- 'अब देखना है कि हमारा हाथ मजबूत है या उस कातिल का'

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। एक बार फिर उन्होंने एक ऐसा ही बयान दिया है। जिसने राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी। कांग्रेस नेता अय्यर ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, उन्होंने ‘सबका साथ और सबका विकास’ के वादे के साथ चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्होंने ‘सबका साथ और सबका विनाश’ किया। अय्यर यहीं पर नहीं रुके, उन्होंने यहां तक कह दिया कि ‘अब देखें किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का’?

Manishankar Aiyar Again Snapped Said In Shaheen Bagh Now To See If Our Hand Is Strong Or That Murderer :

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा, ‘नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में मैं व्यक्तिगत तौर पर जो भी कर सकता हूं, वह करने के लिए तैयार हूं. जो भी कुर्बानियां देनी हों उसमें मैं शामिल होने के लिए तैयार हूं। अब देखें किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का’?

दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में नागरिकता संशोधन और एनआरसी के खिलाफ 15 दिसंबर से जारी प्रदर्शन में हिस्सा लेने पहुंचे मणिशंकर अय्यर ने कहा, बीजेपी को चुनाव में बहुमत मिला क्योंकि उन्होंने कहा था कि हम सबका साथ और सबका विकास करेंगे। लेकिन उन्होंने ऐसा कोई कदम नहीं उठाया. बीजेपी ने सबका विकास करने के बजाय सबका विनाश किया है। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने ही उनको प्रधानमंत्री बनाया है और आप ही लोग उनको सिंहासन से उतार सकते हैं। उन्होंने कहा, मैं हमेशा से प्रदर्शन में शामिल रहा हूं और आगे भी शामिल रहूंगा।

गौरतलब है कि शाहीन बाग प्रदर्शन के कारण कालिंदी कुंज-शाहीन बाग मार्ग बंद है। मामले की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को कालिंदी कुंज-शाहीन बाग मार्ग मामले को देखने के निर्देश जारी किए हैं। कोर्ट ने कहा है कि जनहित को ध्यान में रखते हुए कानून व्यवस्था बनाई जाए।

 

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। एक बार फिर उन्होंने एक ऐसा ही बयान दिया है। जिसने राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी। कांग्रेस नेता अय्यर ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, उन्होंने 'सबका साथ और सबका विकास' के वादे के साथ चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्होंने 'सबका साथ और सबका विनाश' किया। अय्यर यहीं पर नहीं रुके, उन्होंने यहां तक कह दिया कि 'अब देखें किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का'? कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा, 'नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में मैं व्यक्तिगत तौर पर जो भी कर सकता हूं, वह करने के लिए तैयार हूं. जो भी कुर्बानियां देनी हों उसमें मैं शामिल होने के लिए तैयार हूं। अब देखें किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का'? दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में नागरिकता संशोधन और एनआरसी के खिलाफ 15 दिसंबर से जारी प्रदर्शन में हिस्सा लेने पहुंचे मणिशंकर अय्यर ने कहा, बीजेपी को चुनाव में बहुमत मिला क्योंकि उन्होंने कहा था कि हम सबका साथ और सबका विकास करेंगे। लेकिन उन्होंने ऐसा कोई कदम नहीं उठाया. बीजेपी ने सबका विकास करने के बजाय सबका विनाश किया है। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने ही उनको प्रधानमंत्री बनाया है और आप ही लोग उनको सिंहासन से उतार सकते हैं। उन्होंने कहा, मैं हमेशा से प्रदर्शन में शामिल रहा हूं और आगे भी शामिल रहूंगा। गौरतलब है कि शाहीन बाग प्रदर्शन के कारण कालिंदी कुंज-शाहीन बाग मार्ग बंद है। मामले की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को कालिंदी कुंज-शाहीन बाग मार्ग मामले को देखने के निर्देश जारी किए हैं। कोर्ट ने कहा है कि जनहित को ध्यान में रखते हुए कानून व्यवस्था बनाई जाए।