1. हिन्दी समाचार
  2. वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के फाइनल में हारीं मंजू रानी, सिल्वर मेडल से करना पड़ा संतोष

वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के फाइनल में हारीं मंजू रानी, सिल्वर मेडल से करना पड़ा संतोष

By रवि तिवारी 
Updated Date

Manju Rani Gets Silver Medal Loses Ekaterina Paltceva Russia Final World Boxing Championships

नई दिल्ली। भारतीय मुक्केबाज मंजू रानी को महिला विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में मिली हार के बाद सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा। हरियाणा की इस मुक्केबाज को लाइट फ्लायवेट (48 किलो) वर्ग के फाइनल में रूस की एकातेरिना पाल्सेवा ने 4-1 से हराया।

पढ़ें :- प्रियंका गांधी का योगी सरकार पर बड़ा आरोप, बोलीं- लखनऊ सहित कई शहरों में छिपाए जा रहे हैं मौत के आंकड़े

दूसरी सीड पाल्टसेवा के खिलाफ मिली इस हार के बाद मंजू को रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा। पांच जजों ने मेजबान रूस की खिलाड़ी के पक्ष में 29-28, 29-28, 30-27, 30-27, 28-29 से फैसला सुनाया। 18 साल बाद यह पहला मौका है जब किसी भारतीय महिला मुक्केबाज ने अपने पदार्पण विश्व चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीता हो। स्ट्रांजा कप की रजत पदक विजेता मंजू से पहले एम सी मैरी कॉम वर्ष 2001 में अपने पदार्पण विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची थी।

रानी और उनकी प्रतिद्वंद्वी ने पहले दौर से ही आक्रामक खेल दिखाया। पहले तीन मिनट में रूसी मुक्केबाज ने दमदार मुक्के लगाए। दूसरे दौर में रानी ने अच्छे जवाबी हमले किये और स्थानीय मुक्केबाज पर भारी पड़ी। आखिरी तीन मिनट में दोनों ने संभलकर खेला। रूसी मुक्केबाज को बेहतर रिफ्लैक्सेस के कारण विजेता घोषित किया गया।

रानी ने इस साल पंजाब के लिए राष्ट्रीय खिताब जीतकर राष्ट्रीय शिविर में जगह बनाई थी। उसने इस साल पहली बार स्ट्रांजा मेमोरियल टूर्नामेंट खेलते हुए रजत पदक जीता। रोहतक के रिठाल फोगाट गांव की रहने वाली रानी के पिता सीमा सुरक्षा बल में अधिकारी थे जिनका कैंसर के कारण 2010 में निधन हो गया था।

पढ़ें :- नदी में तैरते शव मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग सख्त, केंद्र, बिहार और यूपी को भेजा नोटिस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X