1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. मन की बात : पीएम मोदी,बोले- अब भारत दूसरे देशों की सोच और उनके दबाव में नहीं, अपने संकल्प से है चलता

मन की बात : पीएम मोदी,बोले- अब भारत दूसरे देशों की सोच और उनके दबाव में नहीं, अपने संकल्प से है चलता

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार 11 बजे अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के जरिये जनता को संबोधित किया। 77वें संबोधन में मोदी ने सुबह रेडियो पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम में देश-दुनिया के लोगों के साथ अपने विचार साझा किया।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार 11 बजे अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के जरिये जनता को संबोधित किया। 77वें संबोधन में मोदी ने सुबह रेडियो पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम में देश-दुनिया के लोगों के साथ अपने विचार साझा किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम की शुरुआत में कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि देश पूरी ताकत के साथ कोविड-19 से लड़ रहा है।

पढ़ें :- National Education Policy 2020 के एक साल पूरे : पीएम मोदी, बोले- 11 भाषाओं में होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई

पीएम मोदी ने कहा कि जब भारत राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर समझौता नहीं करता, जब हमारी सेनाओं की ताकत बढ़ती हैं, तो हमें लगता है कि हां, हम सही रास्ते पर हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि साथियों, इन 7 वर्षों में जो कुछ भी उपलब्धि रही है। वह देश की रही है, देशवासियों की रही है। कितने ही राष्ट्रीय गौरव के क्षण हमने इन वर्षों में साथ मिलकर अनुभव किए हैं। जब हम ये देखते हैं कि अब भारत दूसरे देशों की सोच और उनके दबाव में नहीं, अपने संकल्प से चलता है, तो हम सबको गर्व होता है।

पीएम मोदी ने कहा कि संयोग से ये सरकार के 7 साल पूरे होने का भी समय है। इन वर्षों में देश सबका-साथ, सबका-विकास, सबका-विश्वास’ के मंत्र पर चला है। मोदी दिल्ली में लैब टेक्निशियन के तौर पर काम करने वाले प्रकाश कांडपाल से बात की, जिसमें उन्होंने कहा कि जब हम राष्ट्र के, मानवता के, समाज के अपेक्षा के और आशा के अनुरूप अपने स्तर पर जो कि एक बूंद के बराबर है। हम उसपे काम करते हैं, खरा उतरते हैं तो एक गौरव की अनुभूति होती है।

कोरोना संकट की इस घड़ी में एयरफोर्स ने भी ऑक्सीजन सप्लाई में बड़ी भूमिका निभाई। वायुसेना के ग्रुप कैप्टन पटनायक ने पीएम मोदी के साथ मन की बात कार्यक्रम में अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा कि हमारी ट्रेनिंग और सपोर्ट सर्विसेज़ जो हैं। हमारी पूरी मदद कर रहे हैं और सबसे बड़ी चीज़ है सर, इसमें जो हमें जॉब सैटिस्फैक्श मिल रही है। वह बहुत ही उच्च स्तर पर है और इसी की वजह से हम लगातार ऑपरेशन कर पा रहे हैं। इस संकट के समय में हमारे देशवासियों को मदद कर सकते हैं यह हमारे लिए बहुत ही सौभाग्य का काम है सर और यह जो भी हमें मिशन मिले हैं हम बख़ूबी से उसको निभा रहे हैं।

मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने ऑक्सिजन सप्लाई टैंकर चलाने वाले दिनेश उपाध्याय से बात की। यूपी के जौनपुर के रहने वाले उपाध्याय ने कहा कि हमको बहुत तसल्ली आती है हमारे जीवन में कि हमने कोई अच्छा काम ज़रूर किया है। जो मुझे ऐसा सेवा करने का अवसर मिला है। चाहे खाना मिले-चाहे न मिले, कुछ भी दिक्कत हो लेकिन हम हॉस्पिटल पहुंचते हैं जब टैंकर लेके और देखते हैं कि हॉस्पिटल वाले हम लोगों को Vका इशारा करते हैं, उनके परिवार लोग जिसके घरवाले भर्ती होते हैं।

पढ़ें :- France News: फ्रांस में covid pass व्यवस्था लागू, इन जगहों पर जाने के लिए गेटपास होगा

पीएम मोदी ने कहा कि ‘केंद्र, राज्य सरकारें और स्थानीय प्रशासन सभी एक साथ मिलकर इस आपदा के सामने करने में जुटे हैं। मैं उन सभी लोगों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं, जिन्होंने अपने करीबियों को खोया है।

पीएम मोदी ने कहा कि विपदा के इस कठिन और असाधारण परिस्थिति में साइक्‍लोन से प्रभावित हुए सभी राज्यों के लोगों ने जिस प्रकार से साहस का परिचय दिया है। इस संकट की घड़ी में बड़े धैर्य के साथ, अनुशासन के साथ मुक़ाबला किया है। मैं आदरपूर्वक, हृदयपूर्वक सभी नागरिकों की सराहना करना चाहता हूं। जिन लोगों ने आगे बढ़कर राहत और बचाव के कार्य में हिस्सा लिया, ऐसे सभी लोगों की जितनी सराहना करें, उतनी कम है। केंद्र, राज्य सरकारें और स्थानीय प्रशासन सभी, एक साथ मिलकर इस आपदा का सामना करने में जुटे हुए हैं।

पीएम मोदी ने इसके साथ ही चक्रवात टाउते और यास, छोटे-मोटे भूकंपों का जिक्र करते हुए कहा कि इनसे कई राज्‍य प्रभावित हुए। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की जनता इनसे पूरी ताकत से लड़ी। पीएम मोदी ने राहत और बचाव कार्यों में हिस्‍सा लेने वालों लोगों को धन्‍यवाद दिया और इन आपदाओं में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवदेना प्रकट की।

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि आजादी के बाद सात दशकों में हमारे देश के केवल साढ़े तीन करोड़ ग्रामीण घरों में ही पानी के कनेक्शन थे। लेकिन पिछले 21 महीनों में ही साढ़े चार करोड़ घरों को साफ पानी कनेक्शन दिए गए हैं। पीएम मोदी ने मन की बात में कहा कि मुझे कितने ही देशवासियों के संदेश, उनके पत्र देश के कोने-कोने से मिलते हैं। कितने ही लोग देश को धन्यवाद देते हैं कि 70 साल बाद उनके गांव में पहली बार बिजली पहुंची है। कितने ही लोग कहते हैं कि हमारा भी गांव अब पक्की सड़क से, शहर से जुड़ गया है।

पढ़ें :- China coronavirus : चीन में कोरोना का खतरा फिर बढ़ा, इस शहर में मिले नए केस, बड़े पैमाने टेस्टिंग शुरू
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...