1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. मनसुख हिरेन की मौत का मामला: एटीएस का संदेह, हत्या से पहले दिया गया था जबरन क्लोरोफॉर्म

मनसुख हिरेन की मौत का मामला: एटीएस का संदेह, हत्या से पहले दिया गया था जबरन क्लोरोफॉर्म

महाराष्ट्र एटीएस ने मनसुख हिरेन की मौत के मामले में बड़ा खुलासा किया है। एटीएस का कहना है कि हत्या से पहले शायद मनसुख हिरेन को जबरन क्लोरोफॉर्म दिया गया था। बताया जा रहा है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर एटीएस ने ये शक जताया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Mansukh Hirens Death Case Ats Suspected Forced Chloroform Given Before Murder

मुंबई। महाराष्ट्र एटीएस ने मनसुख हिरेन की मौत के मामले में बड़ा खुलासा किया है। एटीएस का कहना है कि हत्या से पहले शायद मनसुख हिरेन को जबरन क्लोरोफॉर्म दिया गया था। बताया जा रहा है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर एटीएस ने ये शक जताया है।

पढ़ें :- मनसुख हिरेन की मौत का मामला: महाराष्ट्र एटीएस ने दो संदिग्धों को किया गिरफ्तार

इसके मुताबिक, हत्या से पहले उनके शरीर पर चोट के निशान पाए गए थे। बता दें कि, मनसुख हिरेन का शव पांच मार्च को मुंबई के पास एक क्रीक पर मिली थी। बता दें कि, मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली संदिग्ध कार के मामले की जांच एनआईए की ओर से की जा रही है।

वहीं, अब मनसुख हिरेन की मौत मामले की जांच भी अब एनआईए अपने हाथों में ले रही है। बता दें कि, एंटीलिया केस से ही मनसुख हिरेन की मौत को जोड़कर देखा जा रहा है।

वहीं, मनसुख हिरेन की जांच कर रही महाराष्ट्र एटीएस को आशंका है कि उन्हें क्लोरोफॉर्म दिए जाने की कोशिश की गई होगी तो उसने संघर्ष किया होगा और इस दौरान ही जोर-जबरदस्ती में उसके चेहरे पर चोटें आई हैं। जांचकर्ताओं को संदेह है कि क्लोरोफॉर्म देने के बाद मनसुख हिरेन बेहोश हो गया होगा और फिर उसकी हत्या के लिए ले जाया गया।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X