आंधी—तूफान ने मचाई तबाही, 31 लोगों की मौत, किसानों की फसल बर्बाद

aandhi
आंधी—तूफान ने मचाई तबाही, 31 लोगों की मौत, किसानों की फसल बर्बाद

नई दिल्ली। मंगलवार देर रात आई आंधी—तूफान ने भारी तबाही मचाई। इस आंधी तूफान में 31 लोगों से ज्यादा लोगों की जान ले ली, जबकि किसानों की फसल बर्बाद हो गयी। राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में आंधी तूफान का कहर बरपा। बारिश के साथ पड़े ओले ने किसानों की कमर तोड़ दी। उनकी फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो गयी। मौसम विभाग ने यूपी, राजस्थान में अगले 24 घंटे में आंधी तूफान की संभावना जताई है।

Many People Died Due To Rain And Storm In Northern India :

आंधी—पानी के साथ पड़े ओले के कारण उत्तर भारत में तापमान में तेज गिरावट आई है। वहीं तेज आंधी के कारण कई घर ढल गये, जिसमें दबकर उसमें रहने वाले लोगों की जान चली गयी। वहीं दर्जनों वाहनों पर पेड़ गिरने से वह बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गये। वहीं बिजली की आपूर्ति भी पूरी तरह से बाधित हो गयी।

आंधी—तूफान में किसानों की फसल बर्बाद

बारिश और ओलावृष्टि से जयपुर में पारा गिरकर 11.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। राजस्‍थान के ही चित्‍तौड़ में 22 मिलीमीटर बारिश हुई। राजस्‍थान के बस्‍सी और जमवाराढ़ में दीवार ढहने से दो लोगों की मौत हो गई। वहीं झालवाड में चार बच्चों और उदयपुर में दो युवकों के मौत हुई है। वहीं मौसम विभाग ने चेतावती जारी की ​है कि बुधवार को पश्चिम और पूर्वी राजस्थान में तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है।

वहीं आंधी-तूफान से मध्‍य प्रदेश में कम से कम 16 लोगों के मौत और कई लोगों के घायल होने की सूचना आ रही है। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। बारिश और बिजली गिरने से इंदौर में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। वहीं गुजरात में नौ लोगों के मरने की खबर है।

मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार दोपहर बाद राजधानी लखनऊ और उसके आस—पास के इलाकों में आंधी—तूफान के आसार हैं। आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि इस वक्त हवा का रुख दक्षिण पूर्वी है। इस बीच बुधवार को भी बादलों की आवाजाही बरकरार रहेगी।

नई दिल्ली। मंगलवार देर रात आई आंधी—तूफान ने भारी तबाही मचाई। इस आंधी तूफान में 31 लोगों से ज्यादा लोगों की जान ले ली, जबकि किसानों की फसल बर्बाद हो गयी। राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में आंधी तूफान का कहर बरपा। बारिश के साथ पड़े ओले ने किसानों की कमर तोड़ दी। उनकी फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो गयी। मौसम विभाग ने यूपी, राजस्थान में अगले 24 घंटे में आंधी तूफान की संभावना जताई है। आंधी—पानी के साथ पड़े ओले के कारण उत्तर भारत में तापमान में तेज गिरावट आई है। वहीं तेज आंधी के कारण कई घर ढल गये, जिसमें दबकर उसमें रहने वाले लोगों की जान चली गयी। वहीं दर्जनों वाहनों पर पेड़ गिरने से वह बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गये। वहीं बिजली की आपूर्ति भी पूरी तरह से बाधित हो गयी। [caption id="attachment_321667" align="alignnone" width="1024"] आंधी—तूफान में किसानों की फसल बर्बाद[/caption] बारिश और ओलावृष्टि से जयपुर में पारा गिरकर 11.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। राजस्‍थान के ही चित्‍तौड़ में 22 मिलीमीटर बारिश हुई। राजस्‍थान के बस्‍सी और जमवाराढ़ में दीवार ढहने से दो लोगों की मौत हो गई। वहीं झालवाड में चार बच्चों और उदयपुर में दो युवकों के मौत हुई है। वहीं मौसम विभाग ने चेतावती जारी की ​है कि बुधवार को पश्चिम और पूर्वी राजस्थान में तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है। वहीं आंधी-तूफान से मध्‍य प्रदेश में कम से कम 16 लोगों के मौत और कई लोगों के घायल होने की सूचना आ रही है। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। बारिश और बिजली गिरने से इंदौर में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। वहीं गुजरात में नौ लोगों के मरने की खबर है। मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार दोपहर बाद राजधानी लखनऊ और उसके आस—पास के इलाकों में आंधी—तूफान के आसार हैं। आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि इस वक्त हवा का रुख दक्षिण पूर्वी है। इस बीच बुधवार को भी बादलों की आवाजाही बरकरार रहेगी।