मार्च से मई तक पिछले साल से ज्यादा होगी गर्मी, UP में हफ्ते भर बारिश के आसार

hotter
मार्च से मई तक पिछले साल से ज्यादा होगी गर्मी, UP में हफ्ते भर बारिश के आसार

नई दिल्ली। मौसम विभाग ने गर्मी को लेकर अगले तीन महीनों के लिए भविष्यवाणी की है। मौसम विभाग के मुताबिक इस बार देश में मार्च से मई के बीच बीते वर्ष से काफी ज्यादा गर्मी सताने पड़ेगी। यही नही उत्तर भारत में इस बार गर्मी पूरे देश से एक डिग्री ज्यादा ही रहेगी। इसके तहत उत्तर भारत में इस बार आधे से एक डिग्री ज्यादा गर्मी पड़ने की संभावना व्यक्त की गई है।

March To May Will Be Hotter Than Last Year Up Is Expected To Rain For A Week :

मौसम विभाग द्वारा जानकारी दी गयी कि मार्च, अप्रैल और मई में उत्तर भारत, पश्चिम और मध्य भारत में तापमान आधे से एक डिग्री तक ज्यादा रहेगा। इसके कारण पिछले सालों से ज्यादा गर्मी पड़ेगी। उत्तराखंड, हिमाचल, पश्चिमी राजस्थान और अरुणाचल प्रदेश में अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री ज्यादा जाएगा। जबकि उत्तराखंड में न्यूनतम तापमान भी एक डिग्री ऊपर रहने की संभावना है। यानी दिन के साथ-साथ रातें भी गर्म होंगी। वहीं दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान आदि इलाकों में अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान सामान्य से आधे से एक डिग्री तक ज्यादा रहेगा।

मौसम विभाग ने कहा कि दक्षिणी के कुछ संभागों में भी गर्मी सामान्य से ज्यादा रहने की संभावना है। जबकि मध्य प्रदेश गुजरात, पश्चिम बंगाल, ओडिसा, विदर्भ और केरल में तापमान आधा डिग्री तक ज्यादा रहेगा। हालांकि मौसम विभाग ने यह भी बताया कि प्रशांत महासागर में अलनीनो नहीं बनने की संभावना व्यक्त की गई हैं। यह मानसून को लेकर अच्छी खबर दे सकता है। मानसून के लिए मौसम विभाग अप्रैल में भविष्यवाणी करेगा।

यूपी में आज से 5 मार्च तक रहेंगे हवा और बादल, बारिश के आसार

उत्तर प्रदेश का मौसम एक बार फिर बदलने की तैयारी में है। पश्चिमी विक्षोभ और चक्रवातीय दबाव के चलते उ.प्र. में शुक्रवार 28 फरवरी से तेज हवा, हल्की बारिश और कहीं-कहीं ओलावृष्टि का सिलसिला शुरू होगा, जो 2 व 3 मार्च को अंतराल के साथ 5 मार्च तक जारी रहेगा। शुक्रवार 28 फरवरी को पश्चिमी यूपी में 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से तेज हवा और गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होने के आसार हैं।
शनिवार 29 फरवरी को पूर्वी उ.प्र. में भी ऐसा ही मौसम रहने की सम्भावना जतायी है। एक मार्च को पूरे प्रदेश में बदली-बारिश, तेज हवा और ओलावृष्टि के आसार हैं। 2 व 3 मार्च को अंतराल आएगा फिर 4 व 5 मार्च को प्रदेश में बदली-बारिश का सिलसिला चलेगा।

नई दिल्ली। मौसम विभाग ने गर्मी को लेकर अगले तीन महीनों के लिए भविष्यवाणी की है। मौसम विभाग के मुताबिक इस बार देश में मार्च से मई के बीच बीते वर्ष से काफी ज्यादा गर्मी सताने पड़ेगी। यही नही उत्तर भारत में इस बार गर्मी पूरे देश से एक डिग्री ज्यादा ही रहेगी। इसके तहत उत्तर भारत में इस बार आधे से एक डिग्री ज्यादा गर्मी पड़ने की संभावना व्यक्त की गई है। मौसम विभाग द्वारा जानकारी दी गयी कि मार्च, अप्रैल और मई में उत्तर भारत, पश्चिम और मध्य भारत में तापमान आधे से एक डिग्री तक ज्यादा रहेगा। इसके कारण पिछले सालों से ज्यादा गर्मी पड़ेगी। उत्तराखंड, हिमाचल, पश्चिमी राजस्थान और अरुणाचल प्रदेश में अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री ज्यादा जाएगा। जबकि उत्तराखंड में न्यूनतम तापमान भी एक डिग्री ऊपर रहने की संभावना है। यानी दिन के साथ-साथ रातें भी गर्म होंगी। वहीं दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान आदि इलाकों में अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान सामान्य से आधे से एक डिग्री तक ज्यादा रहेगा। मौसम विभाग ने कहा कि दक्षिणी के कुछ संभागों में भी गर्मी सामान्य से ज्यादा रहने की संभावना है। जबकि मध्य प्रदेश गुजरात, पश्चिम बंगाल, ओडिसा, विदर्भ और केरल में तापमान आधा डिग्री तक ज्यादा रहेगा। हालांकि मौसम विभाग ने यह भी बताया कि प्रशांत महासागर में अलनीनो नहीं बनने की संभावना व्यक्त की गई हैं। यह मानसून को लेकर अच्छी खबर दे सकता है। मानसून के लिए मौसम विभाग अप्रैल में भविष्यवाणी करेगा। यूपी में आज से 5 मार्च तक रहेंगे हवा और बादल, बारिश के आसार उत्तर प्रदेश का मौसम एक बार फिर बदलने की तैयारी में है। पश्चिमी विक्षोभ और चक्रवातीय दबाव के चलते उ.प्र. में शुक्रवार 28 फरवरी से तेज हवा, हल्की बारिश और कहीं-कहीं ओलावृष्टि का सिलसिला शुरू होगा, जो 2 व 3 मार्च को अंतराल के साथ 5 मार्च तक जारी रहेगा। शुक्रवार 28 फरवरी को पश्चिमी यूपी में 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से तेज हवा और गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होने के आसार हैं। शनिवार 29 फरवरी को पूर्वी उ.प्र. में भी ऐसा ही मौसम रहने की सम्भावना जतायी है। एक मार्च को पूरे प्रदेश में बदली-बारिश, तेज हवा और ओलावृष्टि के आसार हैं। 2 व 3 मार्च को अंतराल आएगा फिर 4 व 5 मार्च को प्रदेश में बदली-बारिश का सिलसिला चलेगा।