मार्गशीर्ष पूर्णिमा की किरणों से अलौकिक हुआ मनकामेश्वर उपवन घाट

mankameshwar-mandir
मार्गशीर्ष पूर्णिमा की किरणों से अलौकिक हुआ मनकामेश्वर उपवन घाट

लखनऊ। मार्गशीर्ष पूर्णिमा के अवसर पर नमोस्तुते माँ गोमती के तत्वाधान में आयोजित आदि माँ गोमती महाआरती से शनिवार को मनकामेश्वर उपवन घाट की अलौकिता अपने चरम को स्पर्श कर रही थी। 12 दिसम्बर की पुनीत संध्या पर मनकामेश्वर मठ-मंदिर की प्रमुख महंत देव्या गिरि ने आदि माँ गोमती महाआरती की। इस अवसर अन्नपूर्णा जयंती पर आयोजित इस गोमती आरती के मौके पर घाटों पुष्पों व हज़ारों दियो से सुशोभित किया गया था। पूर्णिमा की संध्या होने के कारण आदि माँ गोमती महाआरती को देखने के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा साथ ही साथ इस आयोजन में हीरा ठाकुर राज्यमंत्री पिछड़ा वर्ग आयोग उत्तर प्रदेश सरकार मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित रहे।

Margashirsha Purnima Mankameshwar Mandir :

नमोस्तुते मां गोमती एवं मनकामेश्वर मठ मंदिर की महंत दिव्यगिरी जी महाराज ने मुख्य मंच से माँ गोमती की महा आरती की साथ ही साथ वैशाख शुक्ल पूर्णिमा के अवसर पर महंत देव्यागिरि ने चंद्र आरती कर भगवान चंद्रदेव का आशीर्वाद प्राप्त किया। पंडित शिवानंद व पंडित शिव राम अवस्थी के आचार्यत्व में सभी वेदियों पर एक ही वेश भूषा में सभी पंडितों ने मंत्रों उच्चार के साथ माँ गोमती की आरती और पूजा अर्चना की।

नागरिक संसोधन बिल के पास होने के हर्ष में दीयों एवं पुष्पों से बनाई गई रंगोली एवं दीपआकृति-

कल दिनांक 11 दिसम्बर को राज्यसभा में ऐतिहासिक नागरिक संसोधन पास होने के हर्ष पर आज मुख्य वेदी के समक्ष एक पुष्प एवं दीपआकृति मंदिर के सेवादारों ने उकेरी जिसकी सुंदरता देखते ही बन रही थी।

विवेकानन्द पाण्डेय के भजनों से मंत्र मुग्द हुए श्रद्धालु-

विवेकानंद पांडेय भजन के साथ आरम्भ हुई गोमती आरती संध्या, उनके साथियों के संयोजन में घाट पर भजन संध्या का आयोजन हुआ। गुरु मेरी पूजा, नमोस्तुते माँ गोमती,जय गणपति गण नायक… शंकर स्तुति व अन्य भजन सुनकर दर्शक भाव विभोर हो गए। इनके साथ संगत मे ज्योति प्रकाश शुक्ल, तबले पर ऋषि, पैड पर सोनू शर्मा ने साथ दिया।

लखनऊ। मार्गशीर्ष पूर्णिमा के अवसर पर नमोस्तुते माँ गोमती के तत्वाधान में आयोजित आदि माँ गोमती महाआरती से शनिवार को मनकामेश्वर उपवन घाट की अलौकिता अपने चरम को स्पर्श कर रही थी। 12 दिसम्बर की पुनीत संध्या पर मनकामेश्वर मठ-मंदिर की प्रमुख महंत देव्या गिरि ने आदि माँ गोमती महाआरती की। इस अवसर अन्नपूर्णा जयंती पर आयोजित इस गोमती आरती के मौके पर घाटों पुष्पों व हज़ारों दियो से सुशोभित किया गया था। पूर्णिमा की संध्या होने के कारण आदि माँ गोमती महाआरती को देखने के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा साथ ही साथ इस आयोजन में हीरा ठाकुर राज्यमंत्री पिछड़ा वर्ग आयोग उत्तर प्रदेश सरकार मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित रहे। नमोस्तुते मां गोमती एवं मनकामेश्वर मठ मंदिर की महंत दिव्यगिरी जी महाराज ने मुख्य मंच से माँ गोमती की महा आरती की साथ ही साथ वैशाख शुक्ल पूर्णिमा के अवसर पर महंत देव्यागिरि ने चंद्र आरती कर भगवान चंद्रदेव का आशीर्वाद प्राप्त किया। पंडित शिवानंद व पंडित शिव राम अवस्थी के आचार्यत्व में सभी वेदियों पर एक ही वेश भूषा में सभी पंडितों ने मंत्रों उच्चार के साथ माँ गोमती की आरती और पूजा अर्चना की। नागरिक संसोधन बिल के पास होने के हर्ष में दीयों एवं पुष्पों से बनाई गई रंगोली एवं दीपआकृति- कल दिनांक 11 दिसम्बर को राज्यसभा में ऐतिहासिक नागरिक संसोधन पास होने के हर्ष पर आज मुख्य वेदी के समक्ष एक पुष्प एवं दीपआकृति मंदिर के सेवादारों ने उकेरी जिसकी सुंदरता देखते ही बन रही थी। विवेकानन्द पाण्डेय के भजनों से मंत्र मुग्द हुए श्रद्धालु- विवेकानंद पांडेय भजन के साथ आरम्भ हुई गोमती आरती संध्या, उनके साथियों के संयोजन में घाट पर भजन संध्या का आयोजन हुआ। गुरु मेरी पूजा, नमोस्तुते माँ गोमती,जय गणपति गण नायक... शंकर स्तुति व अन्य भजन सुनकर दर्शक भाव विभोर हो गए। इनके साथ संगत मे ज्योति प्रकाश शुक्ल, तबले पर ऋषि, पैड पर सोनू शर्मा ने साथ दिया।