यूपी खादी ग्रामोद्योग बोर्ड और अमेज़न के बीच हुआ मार्केटिंग का करार

यूपी खादी ग्रामोद्योग बोर्ड और अमेज़न के बीच हुआ मार्केटिंग का करार
यूपी खादी ग्रामोद्योग बोर्ड और अमेज़न के बीच हुआ मार्केटिंग का करार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का खादी ग्रामोद्योग बोर्ड अब अपने उत्पादों को ऑनलाइन बेचने को तैयार है। मंगलवार को खादी ग्रामोद्योग और अमेजन के बीच होटल ताज में यूपी खादी की मार्केटिंग के लिए करार हुआ है। इस मौके पर मंत्री सत्यदेव पचौरी, प्रमुख सचिव नवनीत सहगल, बोर्ड के सीईओ एके सिंह और अमेजन डीजीएम गोपाल पिल्लई उपस्थित थे।

Marketing Of Up Khadi Deals With Amazon :

एमओयू साइन होने के बाद अब खादी ग्रामोद्योग की इकाइयों के उत्पादों का अब ऑनलाइन विपणन हो सकेगा। इसके बाद अमेजन इंडिया एमओयू के तहत ऑनलाइन खादी उत्पादों की बिक्री करेगा। साथ ही अमेजन इंडिया यूपी के गांवों में रहने वाले खादी कारीगरों को शिक्षित और प्रशिक्षित भी करेगा।

यूपी पहला राज्य है जिसके साथ अमेजन ने यह करार किया है। यूपी खादी के नाम से अमेजन प्रदेश की संस्थाओं को खादी बेचेगा। अभी 8 संस्थाओं की खादी बिक रही है। 40 और संस्थाओं की फोटो शूट हो चुकी है। मंत्री ने कहा कि इस करार से प्रदेश की खादी को पूरे विश्व में पहचान मिलेगी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का खादी ग्रामोद्योग बोर्ड अब अपने उत्पादों को ऑनलाइन बेचने को तैयार है। मंगलवार को खादी ग्रामोद्योग और अमेजन के बीच होटल ताज में यूपी खादी की मार्केटिंग के लिए करार हुआ है। इस मौके पर मंत्री सत्यदेव पचौरी, प्रमुख सचिव नवनीत सहगल, बोर्ड के सीईओ एके सिंह और अमेजन डीजीएम गोपाल पिल्लई उपस्थित थे।एमओयू साइन होने के बाद अब खादी ग्रामोद्योग की इकाइयों के उत्पादों का अब ऑनलाइन विपणन हो सकेगा। इसके बाद अमेजन इंडिया एमओयू के तहत ऑनलाइन खादी उत्पादों की बिक्री करेगा। साथ ही अमेजन इंडिया यूपी के गांवों में रहने वाले खादी कारीगरों को शिक्षित और प्रशिक्षित भी करेगा।यूपी पहला राज्य है जिसके साथ अमेजन ने यह करार किया है। यूपी खादी के नाम से अमेजन प्रदेश की संस्थाओं को खादी बेचेगा। अभी 8 संस्थाओं की खादी बिक रही है। 40 और संस्थाओं की फोटो शूट हो चुकी है। मंत्री ने कहा कि इस करार से प्रदेश की खादी को पूरे विश्व में पहचान मिलेगी।