1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. क्रिसमस 2021: मैरी क्रिसमस शब्द कहां से आया, जानें क्या है इसका वास्तविक मतलब

क्रिसमस 2021: मैरी क्रिसमस शब्द कहां से आया, जानें क्या है इसका वास्तविक मतलब

क्रिसमस डे का इंतजार सबसे ज्यादा बच्चे करते हैं। यीशु के जन्मदिन के मौके पर ये खास त्यौहार होता है, जिसमें सैंटा क्लाॅज बच्चों के लिए गिफ्ट लेकर आते हैं। लोग इस मौके पर एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं। आपस में आप एक दूसरे को मैरी क्रिसमस के मैसेज भेजते हैं।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

नई दिल्ली। क्रिसमस डे का इंतजार सबसे ज्यादा बच्चे करते हैं। यीशु के जन्मदिन के मौके पर ये खास त्यौहार होता है, जिसमें सैंटा क्लाॅज(Senta Cloz) बच्चों के लिए गिफ्ट लेकर आते हैं। लोग इस मौके पर एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं। आपस में आप एक दूसरे को मैरी क्रिसमस के मैसेज भेजते हैं। लेकिन क्या आपने कभी गौर किया कि अन्य त्योहारों की तरह हम क्रिसमस में हैप्पी क्रिसमस नहीं बल्कि मैरी क्रिसमस बोलते हैं? आखिर हैप्पी दिवाली, हैप्पी न्यू ईयर या हैप्पी ईस्टर की तरह हम हैप्पी क्रिसमस क्यों नहीं बोलते?

पढ़ें :- Chane Ke Saag Ke Fayde: जाड़े में खा लिया चने के साग तो पास भी नहीं फटकेंगी ये बीमारियां, जानें फायदे

मैरी का क्या अर्थ है ?

मैरी(Marry) का अर्थ आनंदित, खुशी होता है। मैरी शब्द जर्मनिक और ओल्ड इंग्लिश से मिलाकर बना है। साधारण शब्दों में समझे तो मैरी का अर्थ और हैप्पी का अर्थ अर्थ एक ही होता है। लेकिन क्रिसमस में हैप्पी की बजाय मैरी शब्द का इस्तेमाल होता है।

कहां से आया मैरी शब्द ?

मैरी शब्द 16वीं शताब्दी में आया था। उस समय अंग्रेजी भाषा अपनी शुरुआती अवस्था में थी। फिर 18वीं और 19वीं शताब्दी में यह अधिक प्रचलित हुआ। क्रिसमस के साथ हैप्पी से ज्यादा मैरी का इस्तेमाल होने लगा। लेकिन क्रिसमस के अलावा किसी अन्य फेस्टिवल(Festival) में मैरी शब्द का प्रयोग कभी नहीं किया गया।

पढ़ें :- प्याज का ऊपरी हिस्सा छीलकर उसे विनेगर और पानी के घोल में थोड़ी देर के लिए डुबाते हैं,

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...