जेनएयू में तांडव के बाद आराम से निकले नकाबपोश बदमाश, देखती रह गई पुलिस, उठे कई सवाल

jnu 1
जेनएयू में तांडव के बाद आराम से निकले नकाबपोश बदमाश, देखती रह गई पुलिस, उठे कई सवाल

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुए तांडव को लेकर कई सवाल उठने लगे हैं। नकाबपोश बदमाशों ने जेएनयू कैंपस में जमकर तांडव किया लेकिन पुलिस प्रशासन इसको लेकर बेफ्रिेक रही, जिसके कारण वह आसानी से निकल गए। हिंसा में करीब तीन दर्जन छात्र घायल हुए हैं। घायल छात्रों को एम्स में भर्ती कराया गया है। वहीं, हिंसा के बाद एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसपर कई सवाल उठ रहे हैं।

Masked Crooks Came Out Comfortably After Orgy In Jnu Police Kept On Watching Many Questions Arose :

जेएनयू से सामने आए एक वीडियो में दर्जनों नकाबपोश हाथों में हाथों में डंडे और रॉड लेकर बाहर जाते दिख रहे हैं। वीडियो में दिख रहा है कि नकाबपोश बदमाश आराम से जा रहे थे लेकिन न तो पुलिस और न ही गार्ड उन पर कार्रवाई कर रहे हैं। जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष ने कहा है कि उनके ऊपर भी हमला किया गया। आइशी के सिर से खून निकलने की फोटो और वीडियो भी सामने आयी है।

वहीं, सोमवार को दिल्ली पुलिस ने जेएनयू हिंसा मामले में FIR दर्ज कर ली। इस मामले की जांच अब क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, हिंसा के दौरान कुल 23 लोग घायल हुए हैं उन्हें एम्स से रिलीज किया जा चुका है। दिल्ली पुलिस ने जेएनयू हिंसा में पब्लिक प्रॉपर्टी डैमेज एक्ट और दंगे फैलाने की धारा के तहत मामला दर्ज किया है।

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुए तांडव को लेकर कई सवाल उठने लगे हैं। नकाबपोश बदमाशों ने जेएनयू कैंपस में जमकर तांडव किया लेकिन पुलिस प्रशासन इसको लेकर बेफ्रिेक रही, जिसके कारण वह आसानी से निकल गए। हिंसा में करीब तीन दर्जन छात्र घायल हुए हैं। घायल छात्रों को एम्स में भर्ती कराया गया है। वहीं, हिंसा के बाद एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसपर कई सवाल उठ रहे हैं। जेएनयू से सामने आए एक वीडियो में दर्जनों नकाबपोश हाथों में हाथों में डंडे और रॉड लेकर बाहर जाते दिख रहे हैं। वीडियो में दिख रहा है कि नकाबपोश बदमाश आराम से जा रहे थे लेकिन न तो पुलिस और न ही गार्ड उन पर कार्रवाई कर रहे हैं। जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष ने कहा है कि उनके ऊपर भी हमला किया गया। आइशी के सिर से खून निकलने की फोटो और वीडियो भी सामने आयी है। वहीं, सोमवार को दिल्ली पुलिस ने जेएनयू हिंसा मामले में FIR दर्ज कर ली। इस मामले की जांच अब क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, हिंसा के दौरान कुल 23 लोग घायल हुए हैं उन्हें एम्स से रिलीज किया जा चुका है। दिल्ली पुलिस ने जेएनयू हिंसा में पब्लिक प्रॉपर्टी डैमेज एक्ट और दंगे फैलाने की धारा के तहत मामला दर्ज किया है।