प्रयागराज में सामूहिक हत्याकांड, नाबालिग और मां-बाप की गला रेतकर हत्या

hatya
प्रयागराज में सामूहिक हत्याकांड, नाबालिग और मां-बाप की गला रेतकर हत्या

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हत्या का मामला सामने आया है। मृतकों में दो महिलाएं और एक पुरुष शामिल हैं। जैसे ही गुरुवार सुबह ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिली, गांव में सनसनी फैल गई। वहीं एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हत्या से गांव में दहशत का माहौल है। फिलहाल सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Mass Murder Slaying Of Minor And Parents In Prayagraj :

पुलिस महानिरीक्षक केपी सिंह ने बताया कि जिले के मांडा थाना क्षेत्र के तहत आंधी गांव में बुधवार देर रात एक ही परिवार के तीन लोगों की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गई। उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान नंदलाल यादव (55), उसकी पत्नी छबीला यादव (50) और बेटी राजदुलारी (15) के रूप में की गई है। यह वारदात उस समय हुई जब नंदलाल और उसकी पत्नी घर के बाहर अपने खेत के सामने सोए हुए थे जबकि बेटी बरामदे में सोई हुई थी। इन तीनों के गले पर धारदार हथियार से वार किया गया जिससे इनकी मौत हुई।

उन्होंने बताया कि गुरुवार की सुबह 5:50 बजे इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई जिसके बाद फॉरेंसिक की टीम, डॉग स्क्वायड और क्राइम ब्रांच के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और सबूत जुटा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस घटना के पीछे की वजह पारिवारिक विवाद भी हो सकता है। सभी पहलुओं से घटना की जांच की जा रही है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हत्या का मामला सामने आया है। मृतकों में दो महिलाएं और एक पुरुष शामिल हैं। जैसे ही गुरुवार सुबह ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिली, गांव में सनसनी फैल गई। वहीं एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हत्या से गांव में दहशत का माहौल है। फिलहाल सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस महानिरीक्षक केपी सिंह ने बताया कि जिले के मांडा थाना क्षेत्र के तहत आंधी गांव में बुधवार देर रात एक ही परिवार के तीन लोगों की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गई। उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान नंदलाल यादव (55), उसकी पत्नी छबीला यादव (50) और बेटी राजदुलारी (15) के रूप में की गई है। यह वारदात उस समय हुई जब नंदलाल और उसकी पत्नी घर के बाहर अपने खेत के सामने सोए हुए थे जबकि बेटी बरामदे में सोई हुई थी। इन तीनों के गले पर धारदार हथियार से वार किया गया जिससे इनकी मौत हुई। उन्होंने बताया कि गुरुवार की सुबह 5:50 बजे इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई जिसके बाद फॉरेंसिक की टीम, डॉग स्क्वायड और क्राइम ब्रांच के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और सबूत जुटा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस घटना के पीछे की वजह पारिवारिक विवाद भी हो सकता है। सभी पहलुओं से घटना की जांच की जा रही है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।