मैच फिक्सिंग: हरियाणा का अंतरराष्ट्रीय बुकी गिरफ्तार, लुकआउट नोटिस हुआ था जारी

buking
मैच फिक्सिंग: हरियाणा का अंतरराष्ट्रीय बुकी गिरफ्तार, लुकआउट नोटिस हुआ था जारी

नई दिल्ली। कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) मैच फिक्सिंग (Match Fixing) मामले में अहम कामयाबी मिली है। सेंट्रल क्राइम ब्रांच (Central Crime Branch) ने इस मामले में अंतरराष्ट्रीय बुकी सय्याम (Sayyam) को गिरफ्तार किया है। जो हरियाणा का रहने वाला है। सट्टेबाजी के आरोप में उसके खिलाफ लुक-आउट सर्कुलर जारी किया गया था।   

Match Fixing Haryana International Bookie Arrested Lookout Notice Issued :

बता दें कि केपीएल में मैच फिक्सिंग मामले में इससे पहले भी कई गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। इससे पहले इस मामले में दो घरेलू क्रिकेटरों को गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में क्राइम ब्रांच ने बेल्लारी टस्कर्स के कप्तान और कर्नाटक के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज सीएम गौतम और उनके साथी खिलाड़ी अबरार काजी को गिरफ्तार किया था।

सीएम गौतम और अबराब काजी पर हुबली बनाम बेल्लारी फाइनल मैच को फिक्स करने और धीमी बैटिंग के एवज में 20 लाख रुपये लेने का आरोप है। इन दोनों खिलाड़ियों को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया।

वहीं, इससे पहले केपीएल से जुड़ी एक क्रिकेट टीम के कोच को भी गिरफ्तार किया जा चुका है। बेंगलुरू से भारतीय क्रिकेटर निशांत सिंह शेखावत को सट्टेबाजी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उनकी गिरफ्तारी कर्नाटक प्रीमियर लीग मैच फिक्सिंग मामले में हुई।

नई दिल्ली। कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) मैच फिक्सिंग (Match Fixing) मामले में अहम कामयाबी मिली है। सेंट्रल क्राइम ब्रांच (Central Crime Branch) ने इस मामले में अंतरराष्ट्रीय बुकी सय्याम (Sayyam) को गिरफ्तार किया है। जो हरियाणा का रहने वाला है। सट्टेबाजी के आरोप में उसके खिलाफ लुक-आउट सर्कुलर जारी किया गया था।    बता दें कि केपीएल में मैच फिक्सिंग मामले में इससे पहले भी कई गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। इससे पहले इस मामले में दो घरेलू क्रिकेटरों को गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में क्राइम ब्रांच ने बेल्लारी टस्कर्स के कप्तान और कर्नाटक के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज सीएम गौतम और उनके साथी खिलाड़ी अबरार काजी को गिरफ्तार किया था। सीएम गौतम और अबराब काजी पर हुबली बनाम बेल्लारी फाइनल मैच को फिक्स करने और धीमी बैटिंग के एवज में 20 लाख रुपये लेने का आरोप है। इन दोनों खिलाड़ियों को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया। वहीं, इससे पहले केपीएल से जुड़ी एक क्रिकेट टीम के कोच को भी गिरफ्तार किया जा चुका है। बेंगलुरू से भारतीय क्रिकेटर निशांत सिंह शेखावत को सट्टेबाजी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उनकी गिरफ्तारी कर्नाटक प्रीमियर लीग मैच फिक्सिंग मामले में हुई।