मथुरा में 15 अगस्त को मनेगी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी

मथुरा में 15 अगस्त को मनेगी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी

श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव 15 अगस्त को मनाया जाएगा। जन्माष्टमी महोत्सव को लेकर मथुरा और वृन्दावन के मंदिरों, आश्रमों में तैयारियां तेजी से चल रहीं हैं। शहर को रंगीन रोशनियों से सजाया जा रहा। जगह-जगह पर विशाल द्वारों का निर्माण कर भगवान कृष्ण के स्वागत की तैयारी की जा रही है।

तय कार्यक्रम के मुताबिक मथुरा के प्रमुख मंदिर श्रीकृष्ण जन्मस्थान, द्वारिकाधीश मंदिर, वृंदावन के ठाकुर बांकेबिहारी जी मंदिर, इस्कॉन, प्रेम मंदिर, ठाकुर राधारणम मंदिर सहित मथुरा के सभी प्रमुख मंदिरों में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का उत्सव 15 अगस्त की मध्यरात्रि मनाया जाएगा।

{ यह भी पढ़ें:- लापता बच्ची की तलाश के लिये इंस्पेक्टर देंगे इनाम, वेतन से 50 हजार देने की घोषणा }

ज्योतिष गणित के अनुसार इस बार भगवान श्रीकृष्ण के जन्म के समय न तो रोहिणी नक्षत्र होगा और न ही अष्टमी होगी। लेकिन सूर्योदय के समय 15 अगस्त को अष्टमी होगी ऐसे में मथुरा के अधिकांश मंदिरों में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का उत्सव इसी दिन मनाया जा रहा है।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के जनसंपर्क अधिकारी विजय बहादुर के मुताबिक श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का उत्सव 15 अगस्त को मनाया जाएगा। इस दिन प्रात: नौ बजे लीला मंच पर महंत नृत्य गोपाल दास महाराज द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की जाएगी। सायं पांच बजे नगर में भव्य शोभायात्रा निकलेगी और मध्यरात्रि भागवत भवन में जन्माभिषेक होगा।

{ यह भी पढ़ें:- लखनऊ समेत कई शहरों में नवरात्र की धूम, ऐसे करें आदिशक्ति की उपासना }

वहीं वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर के सेवायत गौरव गोस्वामी, ठाकुर राधारमण मंदिर के गोस्वामी पदमनाभ ने बताया कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव 15 अगस्त को पूरी धूमधाम के साथ मनाया जाएगा। प्रात: दस बजे राजभोग दर्शनों में विशेष शृंगार के दर्शन होंगे। रात्रि में वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ जन्माभिषेक होगा।