बाबरी मस्जिद की जमीन हिंदुओं को दे देना चाहिए: कल्बे सादिक

लखनऊ। यूपी के अयोध्या में राम मंदिर-बाबरी मस्जिद के मामले पर शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे सादिक का ताजा बयान सामने आया है। कल्बे सादिक ने कहा, ‘बाबरी मस्जिद मामला सुप्रीम कोर्ट में है, अगर फैसला मुसलामानों के हक़ में न आए तो मुसलमान को इस फैसले का स्वागत करना चाहिए और अगर फैसला मुसलमान के हक़ में आ जाए तो मुसलामानों को बाबरी मस्जिद की ज़मीन हिंदुओं को दे देना चाहिए।’

मौलाना कल्बे सादिक ने ये बातें मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान कहीं। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी मौजूद थे। डॉ. हर्षवर्धन ने कल्बे सादिक के बयान की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि यह बात कह कर मौलाना साहब ने सबका दिल जीत लिया है। हर्षवर्धन के मुताबिक भगवान श्रीराम न हिंदुओं के और न मुसलमानों के बल्कि वह तो भारत की आत्मा हैं।

{ यह भी पढ़ें:- वसीम रिजवी का बयान, बोले- अयोध्या में मंदिर बने तो लखनऊ में मस्जिद }

आपको बता दें कि इससे पहले शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा डालकर राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद को नया मोड़ दे दिया है। शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी द्वारा दाखिल हलफनामे में सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड की जगह उसे पक्षकार बनाने की मांग की गई। यही नहीं इस अर्जी में विवाद को सुलझाने का फॉर्मूला भी सुझाया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- निर्मोही अखाड़े का आरोप: VHP ने राम मंदिर के नाम पर 1400 करोड़ का घोटाला किया }

Loading...