मौनी अमावस्या पर शुभ फल पाने के लिए अपनाएं ये उपाय

लखनऊ। मास में मौनी अमावस्या का दिन बेहद खास और पावन होता है। इस दिन लोग पितरों को याद करते हैं और उनके नाम पर स्नान, दान करते हैं। इस वर्ष 16 जनवरी यानि मंगलवार को मौनी अमावस्या है वैसे तो यह पूरा माघ मास ही काफी खास होता है। आज हम आपको बतायेंगे कि इस दिन को लेकर क्या मान्यता है। इस दिन कुछ चीजों से खुद को दूर रख कर आप हमेशा सुखी रह सकते हैं।

  • अमावस्या पर किसी भी इंसान को श्मशान घाट या कब्रिस्तान में या उसके आस-पास नहीं घूमना चाहिए। इस समय बुरी आत्माएं सक्रिय हो जाती है और मानव इन बुरी आत्माओं या नकारात्मक शक्तियों से लड़ने में सक्षम नहीं होता है।
  • मौनी अमावस्या के दिन स्नान का खास महत्व है इसलिए अगर आप किसी पवित्र नदी में स्नान नहीं कर पाएं है तो घर पर जरूर स्नान कर लें। स्नान करने के बाद सूर्य देव को अर्घ्य देना नहीं भूलें। स्नान से पहले तक कुछ बोले नहीं, मौन रहें।
  • अमावस्या पर यौन संबंध बनाने से पैदा होने वाली संतान को आजीवन सुख नहीं मिलता है।
  • लड़ाई-झगड़े और वाद-विवाद से बचना चाहिए। इस दिन कड़वे वचन तो बिल्कुल नहीं बोलने चाहिए।
  • इस दिन शराब, मांस के सेवन इत्यादि से दूर रहें। सादा भोजन करें।
  • यदि मौनी अमावस्या के दिन आपने व्रत धारण किया है तो फिर किसी प्रकार का श्रृंगार ना करें।

इस दिन ऐसे करें पूजा

{ यह भी पढ़ें:- जानिए कब से शुरू हो रहा है सावन और कितने पड़ेंगे सोमवार }

सबसे पहले गंगा या किसी पवित्र नदी में स्नान करें अगर आप नदी में स्नान नहीं कर पा रहे हैं तो फिर घर में नहाने के बाद विष्णु जी का ध्यान करें। स्नान के साथ ही व्रत शुरू हो जाता है। ऐसे में मन में मंत्र का जाप करें। फिर 108 बार तुलसी की परिक्रमा करें। पूजा के बाद अन्न, वस्त्र, गाय, धन और भूमि का दान करें।

लखनऊ। मास में मौनी अमावस्या का दिन बेहद खास और पावन होता है। इस दिन लोग पितरों को याद करते हैं और उनके नाम पर स्नान, दान करते हैं। इस वर्ष 16 जनवरी यानि मंगलवार को मौनी अमावस्या है वैसे तो यह पूरा माघ मास ही काफी खास होता है। आज हम आपको बतायेंगे कि इस दिन को लेकर क्या मान्यता है। इस दिन कुछ चीजों से खुद को दूर रख कर आप हमेशा सुखी रह सकते हैं। अमावस्या पर किसी…
Loading...