अंधविश्वास: मौत के डर से एक भी शौचालय नहीं है इस गांव में

Maut Ke Dar Se Ek Bhee Shauchaalay Nahin Hai Is Gaanv Mein News

पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘स्वच्छ भारत अभियान’ को साकार करने के लिये जहां एक तरफ सूबे में ज़ोर शोर से प्रचार अभियान जारी है और लोगों को जागरूक किया जा रहा है। खुले में शौंच को लेकर महानायक अमिताभ बच्चन भी विज्ञापन के माध्यम से लोगों को जागरूक करने में जुटे हुए हैं, तो वहीं बिहार के पटना का एक गांव ऐसा है, जहां एक अंधविश्वास ने लोगों के जहां में घर कर रखा है।

पटना के नवादा जिले में ग़ाज़ीपुर नाम के गांव में लोग अंधविश्वास से भरी एक दुनिया बना चुके हैं। इस गांव में फ़्रिज, कूलर, एलसीडी टीवी, इन्वर्टर, आरओ और गीज़र जैसी तमाम सुविधाएं हैं, लेकिन अगर कुछ नहीं है, तो वो शौचालय। ग्रामीण अपने घरों में आज तक शौचालय नहीं बनवा रहे हैं। पूरे गांव में एक अंधविश्वास है कि अगर किसी घर में शौचालय बना तो परिवार में हर सदस्य की मौत हो जाएगी।

जब ग्रामीणों से इस संदर्भ में बात करने का प्रयास किया गया, तो स्थानीय लोगों ने बता करने से इंकार कर दिया।

पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'स्वच्छ भारत अभियान' को साकार करने के लिये जहां एक तरफ सूबे में ज़ोर शोर से प्रचार अभियान जारी है और लोगों को जागरूक किया जा रहा है। खुले में शौंच को लेकर महानायक अमिताभ बच्चन भी विज्ञापन के माध्यम से लोगों को जागरूक करने में जुटे हुए हैं, तो वहीं बिहार के पटना का एक गांव ऐसा है, जहां एक अंधविश्वास ने लोगों के जहां में घर कर रखा है। पटना के नवादा जिले…