कॉल ड्रॉप में सबसे आगे एयरसेल

नई दिल्ली: जुलाई-सितम्बर, 2016 के दौरान एयरसेल के नेटवर्क पर सबसे अधिक कॉल ड्रॉप दर्ज की गईं। ट्राई की ताजा रिपोर्ट के अनुसार सामान्य और भारी ट्रैफिक दोनों में सबसे अधिक कॉल ड्रॉप एयरसेल के नेटवर्क पर दर्ज हुईं। ट्राई की प्रदर्शन के बारे में जानकारी देने वाली रिपोर्ट के अनुसार व्यस्त समय में असम, बिहार, जम्मू-कश्मीर तथा पूर्वोत्तर के दूरसंचार सर्किल में एयरसेल के नेटवर्क पर कॉल ड्रॉप तय मानदंड से अधिक रहीं। बिहार में एयरसेल के नेटवर्क पर कॉल ड्रॉप की दर तय दो फीसद की मासिक दर से छह गुना अधिक रही।




ट्राई के मानदंड के अनुसार किसी भी दूरसंचार नेटवर्क पर गैर व्यस्त समय में एक महीने में दो फीसद से अधिक कॉल स्वत: नहीं कटनी चाहिए, वहीं व्यस्त समय में यह तीन फीसद से अधिक नहीं होनी चाहिए।एयरटेल के जम्मू-कश्मीर के 2जी नेटवर्क तथा रिलायंस कम्युनिकेशंस के राजस्थान के सीडीएमए नेटवर्क पर गैर व्यस्त समय में कॉल ड्रॉप दर्ज की गईं। एयरसेल के 22 में से 12 दूरसंचार सर्किलों में व्यस्त समय में कॉल ड्रॉप की शिकायतें दर्ज की गई।




कॉल ड्रॉप की सबसे ऊंची 19.05 फीसद की दर असम सर्किल में दर्ज हुई। टेलीनॉर के छह में से पांच सर्किलों में कॉल ड्रॉप दर्ज हुई, वहीं वोडाफोन के चार और बीएसएनएल तथा टाटा टेलीसर्विसेज के सीडीएमए नेटवर्क के एक-एक सर्किल पर व्यस्त समय में कॉल ड्रॉप दर्ज हुई।

Loading...