भाई पर कार्रवाई से भड़कीं मायावती, कहा-बीजेपी ने बेनामी संपत्ति से गरीबों का वोट खरीदकर जीता चुनाव

mayawati
भाई पर कार्रवाई से भड़कीं मायावती, कहा-बीजेपी ने बेनामी संपत्ति से गरीबों का वोट खरीदकर चुनाव जीता

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने शुक्रवार बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, भाई और पार्टी उपाध्यक्ष आनंद कुमार पर आयकर विभाग की छापेमारी को राजनीति से प्रेरित है। मायावती ने कहा कि, बीजेपी साजिश के तहत यह कार्रवाई कर रही है।

Mayawati Angry On Action Against His Brother Says Its A Conspiracy Against :

मायावती ने कहा कि, बीजेपी सरकार पहले अपने गिरेबान में झांकर देखे। बीजेपी के पास लोकसभा चुनाव के दौरान 2000 करोड़ रुपए से ज्यादा की बेनामी संपत्ति आई थी, जिसके जरिए वह गरीबों का वोट खरीदकर चुनाव जीती। मायावती ने कहा कि, भाई आनंद पर हो रही कार्रवाई पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। उन्होंने कहा कि अटल जी की सरकार को छोड़ दो तो पिछली सभी सरकारें और वर्तमान में नरेंद्र मोदी व अमित शाह की जोड़ी मिलकर वंचितों को दबाने का कार्य कर रहे हैं।

मायावती ने कहा चुनाव में बीजेपी ने गरीबों के वोट खरीदे थे। इस बात का सबूत है कि चुनाव के दौरान भाजपा के खाते में 2000 करोड़ रुपए आए थे। गौरतलब है कि मायावती के भाई आनंद कुमार के ठीकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की थी और 400 करोड़ रुपये की संपत्ति को जब्त किया था।

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने शुक्रवार बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, भाई और पार्टी उपाध्यक्ष आनंद कुमार पर आयकर विभाग की छापेमारी को राजनीति से प्रेरित है। मायावती ने कहा कि, बीजेपी साजिश के तहत यह कार्रवाई कर रही है। मायावती ने कहा कि, बीजेपी सरकार पहले अपने गिरेबान में झांकर देखे। बीजेपी के पास लोकसभा चुनाव के दौरान 2000 करोड़ रुपए से ज्यादा की बेनामी संपत्ति आई थी, जिसके जरिए वह गरीबों का वोट खरीदकर चुनाव जीती। मायावती ने कहा कि, भाई आनंद पर हो रही कार्रवाई पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। उन्होंने कहा कि अटल जी की सरकार को छोड़ दो तो पिछली सभी सरकारें और वर्तमान में नरेंद्र मोदी व अमित शाह की जोड़ी मिलकर वंचितों को दबाने का कार्य कर रहे हैं। मायावती ने कहा चुनाव में बीजेपी ने गरीबों के वोट खरीदे थे। इस बात का सबूत है कि चुनाव के दौरान भाजपा के खाते में 2000 करोड़ रुपए आए थे। गौरतलब है कि मायावती के भाई आनंद कुमार के ठीकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की थी और 400 करोड़ रुपये की संपत्ति को जब्त किया था।