मायावती ने PM मोदी पर साधा निशाना, रायबरेली और अमेठी में कांग्रेस के समर्थन का किया ऐलान

mayawati
चीनी मिल घोटाला: माया की बढ़ी मुश्किलें, अब प्रवर्तन निदेशालय करेगा मनी लॉन्ड्रिंग की जांच

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के पांचवे चरण से पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने बड़ा दाव चला है। उन्होंने अमेठी और रायबरेली में कांग्रेस के समर्थन का ​ऐलान कर सबको हैरान कर दिया। मायावती के इस कदम के बाद बीजेपी में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं प्रियंका गांधी पहले ही वहां सपा कार्यकर्तााओं के बीच पहुंचकर सबको चौंका चुकी हैं।

Mayawati Declares Congress To Support Rae Bareli And Amethi :

इसके साथ ही मायावती ने पीएम मोदी के बयान का पलटवार करते हुए कहा कि वह अपनी चिंता करें, मेरी नहीं। मायावती ने कहा कि, रायबरेली और अमेठी में उनका कोर वोटर कांग्रेस के उम्मीदवारों को ही वोट करेगा, इसमें कोई दो राय नहीं है। लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए शनिवार पीएम प्रतापगढ़ में थे। इस दौरान उन्होंने एसपी—बीएसपी गठबंधन पर जमकर निशाना साधा।

इस दौरान उन्होंने कहा कि मायावती के साथ बहुत बड़ा खेल खेला जा रहा है। गठबंधन खतरे में है। वहीं पीएम मोदी के इस बयान का पलटवार करते हुए मायावती ने कहा कि बीजेपी महागठबंधन को तोड़ना चाहती है लेकिन हम एक हैं। महागठबंधन में कोई मनमुटाव नहीं है। बीजेपी लगातार फूट डालो राज करो की राजनीति कर रही है। 23 मई के रिजल्ट के बाद सरकार बदलने जा रही है।

अगली सरकार और उसके पीएम की चिंता मोदी सरकार ऐंड कंपनी न करे तो ही बेहतर होगा। वहीं इस दौरान मायावती ने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं। महागठबंधन ने कांग्रेस से कोई समझौता नहीं किया है। हमने कांग्रेस के लिए इसलिए सीट छोड़ी ताकि बीजेपी को कमजोर किया जा सके।

कांग्रेस के दोनों सर्वोच्‍च नेता चुनाव जीत जाएं और वहीं उलझकर न रह जाएं। मायावती ने कहा कि हमारा वोटर साइलेंट होता है और वह नेता का इशारा समझकर वोट करता है। रायबरेली और अमेठी में उनका कोर वोटर कांग्रेस के उम्मीदवारों को ही वोट करेगा, इसमें कोई दो राय नहीं है।

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के पांचवे चरण से पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने बड़ा दाव चला है। उन्होंने अमेठी और रायबरेली में कांग्रेस के समर्थन का ​ऐलान कर सबको हैरान कर दिया। मायावती के इस कदम के बाद बीजेपी में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं प्रियंका गांधी पहले ही वहां सपा कार्यकर्तााओं के बीच पहुंचकर सबको चौंका चुकी हैं। इसके साथ ही मायावती ने पीएम मोदी के बयान का पलटवार करते हुए कहा कि वह अपनी चिंता करें, मेरी नहीं। मायावती ने कहा कि, रायबरेली और अमेठी में उनका कोर वोटर कांग्रेस के उम्मीदवारों को ही वोट करेगा, इसमें कोई दो राय नहीं है। लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए शनिवार पीएम प्रतापगढ़ में थे। इस दौरान उन्होंने एसपी—बीएसपी गठबंधन पर जमकर निशाना साधा। इस दौरान उन्होंने कहा कि मायावती के साथ बहुत बड़ा खेल खेला जा रहा है। गठबंधन खतरे में है। वहीं पीएम मोदी के इस बयान का पलटवार करते हुए मायावती ने कहा कि बीजेपी महागठबंधन को तोड़ना चाहती है लेकिन हम एक हैं। महागठबंधन में कोई मनमुटाव नहीं है। बीजेपी लगातार फूट डालो राज करो की राजनीति कर रही है। 23 मई के रिजल्ट के बाद सरकार बदलने जा रही है। अगली सरकार और उसके पीएम की चिंता मोदी सरकार ऐंड कंपनी न करे तो ही बेहतर होगा। वहीं इस दौरान मायावती ने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं। महागठबंधन ने कांग्रेस से कोई समझौता नहीं किया है। हमने कांग्रेस के लिए इसलिए सीट छोड़ी ताकि बीजेपी को कमजोर किया जा सके। कांग्रेस के दोनों सर्वोच्‍च नेता चुनाव जीत जाएं और वहीं उलझकर न रह जाएं। मायावती ने कहा कि हमारा वोटर साइलेंट होता है और वह नेता का इशारा समझकर वोट करता है। रायबरेली और अमेठी में उनका कोर वोटर कांग्रेस के उम्मीदवारों को ही वोट करेगा, इसमें कोई दो राय नहीं है।