मायावती ने बनाये नौ मंडलों के प्रभारी, कहा, उद्योगपतियों का साथ दे रही बीजेपी

mayawati
मायावती ने बनाये नौ मंडलों के प्रभारी, कहा - उद्योगपतियों का साथ दे रही बीजेपी

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने उपचुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके लिए इन्होंने नौ मंडलों के प्रभारियों की घोषणा कर दी। उन्होंने लखनऊ, इलाहाबाद, वाराणसी, मिर्जापुर, आजमगढ़, गोरखुपर, देवीपाटन, बस्ती और फैजाबाद के प्रभारी बनाए हैं।

Mayawati Declares Incharge Of Nine Jones For Bypoll :

माल एवेन्यू स्थित कार्यालय में अवध व पूर्वांचल क्षेत्र के पदाधिकारियों के साथ लंबी बैठक में उन्होंने पार्टी का जनाधार बढ़ाने के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों की समीक्षा की और कार्यकर्ताओं से पूरे जोश के साथ उपचुनाव की तैयारियों में जुटने का आह्वान किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ दोनों ही प्रदेश के पूर्वांचल से ही आते हैं लेकिन इन क्षेत्रों में गांव, गरीब व किसान का बुरा हाल है।

केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकार होने के बावजूद यहां की जनता के जीवन में कोई बदलाव नहीं आया है जो कि भाजपा के खोखले दावों को दिखाता है। इसके साथ ही मायावती ने बजट को लेकर मोदी सरकार पर हमला किया। उन्होंने कहा कि सरकार कल्याणकारी सरकार होने की जगह व्यावसयिक मानसिकता वाली सरकार बनती जा रही है। केंद्र सरकार देश की आमजनता के असली मुद्दों को छोड़कर सिर्फ उद्योगपतियों का साथ दे रही है। मायावती ने संवैधानिक जिम्मेदारियों से भागने का भी आरोप लगाया।

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने उपचुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके लिए इन्होंने नौ मंडलों के प्रभारियों की घोषणा कर दी। उन्होंने लखनऊ, इलाहाबाद, वाराणसी, मिर्जापुर, आजमगढ़, गोरखुपर, देवीपाटन, बस्ती और फैजाबाद के प्रभारी बनाए हैं। माल एवेन्यू स्थित कार्यालय में अवध व पूर्वांचल क्षेत्र के पदाधिकारियों के साथ लंबी बैठक में उन्होंने पार्टी का जनाधार बढ़ाने के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों की समीक्षा की और कार्यकर्ताओं से पूरे जोश के साथ उपचुनाव की तैयारियों में जुटने का आह्वान किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ दोनों ही प्रदेश के पूर्वांचल से ही आते हैं लेकिन इन क्षेत्रों में गांव, गरीब व किसान का बुरा हाल है। केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकार होने के बावजूद यहां की जनता के जीवन में कोई बदलाव नहीं आया है जो कि भाजपा के खोखले दावों को दिखाता है। इसके साथ ही मायावती ने बजट को लेकर मोदी सरकार पर हमला किया। उन्होंने कहा कि सरकार कल्याणकारी सरकार होने की जगह व्यावसयिक मानसिकता वाली सरकार बनती जा रही है। केंद्र सरकार देश की आमजनता के असली मुद्दों को छोड़कर सिर्फ उद्योगपतियों का साथ दे रही है। मायावती ने संवैधानिक जिम्मेदारियों से भागने का भी आरोप लगाया।