मायावती ने कहा, मोदी सरकार ने प्रचार में खर्च किए 3044 करोड़, इतने रूपये में बन सकता था हर गांव में अस्पताल और स्कूल

mayawati
अब वह नहीं हैं, तो मैं उन्हें बचाऊंगी: उमा भारती

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टियां एक दूसरे पर हमला करना शुरू कर दी हैं। बहुजन समाज पार्टी की मायावती ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार जितने रूपये प्रचार में खर्च की है उससे हर गांव में शिक्षा और अस्पताल बन सकते थे।

Mayawati Said Modi Government Could Spend Rs 3044 Crore In Publicity So Many Hospitals And Schools In Every Village Could Become :

मायावती ट्वीटर पर सक्रिय होने के बाद लगातार प्रधानमंत्री मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला कर रही हैं। इससे पहले भी उन्होंने ट्वीट कर प्रधानमंत्री और योगी सरकार पर हमला किया था।

उत्तर प्रदेश में सपा व आरएलडी के साथ गठबंधन के बाद बसपा प्रमुख मायावती आजकल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कुछ अधिक ही मुखर हैं। ट्विटर पर अकाउंट चालू होने के बाद शायद ही कोई ऐसा दिन हो जब वह प्रधानमंत्री पर हमला न करें। मायावती ने शनिवार एक ट्वीट कर प्रधानमंत्री पर निशाना साधा है।

उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि ‘पीएम श्री मोदी ज्यादातर शिलान्यास आदि में ही लगातार व्यस्त रहे और प्रचार—प्रसार पर 3044 करोड़ खर्च किया। इस सरकारी धन से राज्य के हर गांव में शिक्षा व अस्पताल की व्यवस्था हो सकती थी लेकिन बीजेपी के लिए प्रचार का ज्याद महत्व है शिक्षा व जनहित का नहीं।’

इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि बीजेपी व पीएम श्री मोदी अपनी सरकार की नाकामियों व घोर विफलताओं पर से लोगों का ध्यान बांटने व गरीबी एवं बेरोजगारी आदि के जनहित के मुद्दे को असली चुनावी बहस बनने से रोकने के लिये हर प्रकार के गढ़े मुर्दे उखाडऩे की कोशिाश में लगे हुये हैं जो अतिनिन्दनीय है। जनता सावधान रहे।

बतातें चलें कि मायावती ने लोकसभा चुनाव को लेकर सपा और आरएलडी से गठबंधन किया है। हालांकि मायावती ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की है। सूत्रों की माने तो बीजेपी के उम्मीदवारों की घोषणा होने के बाद बसपा अपने उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतरेगीं

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टियां एक दूसरे पर हमला करना शुरू कर दी हैं। बहुजन समाज पार्टी की मायावती ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार जितने रूपये प्रचार में खर्च की है उससे हर गांव में शिक्षा और अस्पताल बन सकते थे।

मायावती ट्वीटर पर सक्रिय होने के बाद लगातार प्रधानमंत्री मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला कर रही हैं। इससे पहले भी उन्होंने ट्वीट कर प्रधानमंत्री और योगी सरकार पर हमला किया था।

उत्तर प्रदेश में सपा व आरएलडी के साथ गठबंधन के बाद बसपा प्रमुख मायावती आजकल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कुछ अधिक ही मुखर हैं। ट्विटर पर अकाउंट चालू होने के बाद शायद ही कोई ऐसा दिन हो जब वह प्रधानमंत्री पर हमला न करें। मायावती ने शनिवार एक ट्वीट कर प्रधानमंत्री पर निशाना साधा है।

उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि 'पीएम श्री मोदी ज्यादातर शिलान्यास आदि में ही लगातार व्यस्त रहे और प्रचार—प्रसार पर 3044 करोड़ खर्च किया। इस सरकारी धन से राज्य के हर गांव में शिक्षा व अस्पताल की व्यवस्था हो सकती थी लेकिन बीजेपी के लिए प्रचार का ज्याद महत्व है शिक्षा व जनहित का नहीं।'

इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि बीजेपी व पीएम श्री मोदी अपनी सरकार की नाकामियों व घोर विफलताओं पर से लोगों का ध्यान बांटने व गरीबी एवं बेरोजगारी आदि के जनहित के मुद्दे को असली चुनावी बहस बनने से रोकने के लिये हर प्रकार के गढ़े मुर्दे उखाडऩे की कोशिाश में लगे हुये हैं जो अतिनिन्दनीय है। जनता सावधान रहे।

बतातें चलें कि मायावती ने लोकसभा चुनाव को लेकर सपा और आरएलडी से गठबंधन किया है। हालांकि मायावती ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की है। सूत्रों की माने तो बीजेपी के उम्मीदवारों की घोषणा होने के बाद बसपा अपने उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतरेगीं