1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. माया का राहुल पर बड़ा पलटवार: बोलीं- कांग्रेस दूसरों की चिंता करने की बजाय, अपनी पार्टी पर दें ध्यान

माया का राहुल पर बड़ा पलटवार: बोलीं- कांग्रेस दूसरों की चिंता करने की बजाय, अपनी पार्टी पर दें ध्यान

बीते दिन कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मायावती को लेकर बड़ा हमला बोला था। राहुल गांधी ने कहा था कि बसपा ने यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ा ही नहीं। अब इस पर पलटवार करते हुए बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) की सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल गांधी अपने बिखरे घर को तो संभाल नहीं पा रहे हैं और हम पर कटाक्ष कर रहे हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। बीते दिन कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मायावती को लेकर बड़ा हमला बोला था। राहुल गांधी ने कहा था कि बसपा ने यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ा ही नहीं। अब इस पर पलटवार करते हुए बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) की सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल गांधी अपने बिखरे घर को तो संभाल नहीं पा रहे हैं और हम पर कटाक्ष कर रहे हैं।
मायावती ने कहा कि कांग्रेस पार्टी (Congress Party) शुरू से बसपा (BSP)  से खिलाफ घिनौने हाथकंडे अपना रही है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  का यह कहना कि मैंने जवाब नहीं दिया, यह बात गलत है, इसमें कोई सच्चाई नहीं है। मायावती ने कहा कि कांग्रेस को दूसरी पार्टियों की चिंता करने की बजाय अपनी चिंता करनी चाहिए।

पढ़ें :- Himachal Election Result 2022: हिमाचल में कांग्रेस की बड़ी जीत, सीएम जयराम ठाकुर ने दिया इस्तीफा

मायावती (Mayawati)  ने कहा कि हमारी पार्टी का काम करने का तरीका अलग है। चुनाव के बाद हर विपक्षी पार्टी द्वारा नतीजे पर समीक्षा होनी चाहिए, लेकिन इस तरह की बातें नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का हाल अभी खिसियानी बिल्ली खंभा नोंचे जैसा हो गया है।

मायावती (Mayawati)  ने कहा कि कांग्रेस (Congress) के बीएसपी (BSP) पर कुछ भी बोलने से पहले 100 बार सोचना और समझना चाहिए। इसके साथ ही कहा कि बीजेपी (BJP) से लोहा लेने के मामले में उसका खुद का क्या रिकॉर्ड रहा है? यह कांग्रेस (Congress)  को देख लेना चाहिए। राहुल के बयान पर मायावती ने कहा कि राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) ने भी बीएसपी (BSP)को बदनाम और कमजोर करने के लिए कांशीराम को सीआईए का एजेंट बता दिया था। इसके साथ ही कहा कि अंबेडकर ने पहले भी इनके खिलाफ आवाज उठाई थी।

मायावती ने कहा कि अब उन्हीं की राह पर चलकर उनके बेटे भी इस तरह के आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बीजेपी की सेंट्रल एजेंसी से डरती है। साथ ही कहा कि अंबेडकर ने पहले भी इनके खिलाफ आवाज उठाई थी। मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने अपने लंबे शासनकाल में दलितों की आर्थिक और सामाजिक स्थिति में सुधार के लिए कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया है। इसके साथ ही दलितों के मदों का सरकारी पैसा दूसरे मदों पर खर्च कर दिया गया है। साथ ही आरक्षण समेत दूसरी सुविधाओं का लाभ भी नहीं दिया गया है।

पढ़ें :-  कांग्रेस प्रत्याशी भरत सोलंकी ने की सुसाइड करने की कोशिश, EVM में गड़बड़ी का आरोप
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...