मुलायम के लिए प्रचार करेंगी मायावती, मैनपुरी से SP ने बनाया है प्रत्याशी

mulyam and maywati
मुलायम के लिए प्रचार करेंगी मायावती, मैनपुरी से सपा ने मुलायम को बनाया है प्रत्याशी

लखनऊ। लोकसभा चुनाव को लेकर हुए सपा—बसपा का गठबंधन बीजेपी को रोकने की कोशिश में है। चुनाव करीब आते ही दोनों पार्टियों के मुखिया साझा चुनाव प्रचार करने की भी रणनीति बना लिए हैं। ऐसे में चर्चा है कि मैनपुरी से चुनाव लड़ रहे मुलायम सिंह के लिए मायावती प्रचार करेंगी।लोकसभा चुनाव के मद्देनजर मायावती का यह बड़ा फैसला माना जा रहा है।

Mayawati To Campaign For Mulayam In Lok Sabha Polls :


सपा और बसपा के गठबंधन ने यूपी में एक नये सियासी समीकरण बना दिया है। दोनों पार्टियों के मुखिया मोदी सरकार पर जमकर निशाना साध रहे हैं। वह मोदी सरकार की नीतियों का विरोध कर रहे हैं। सपा ने अपने कई प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है, जिसमें मुलायम सिंह को मैनपुरी से प्रत्याशी बनाया है। हालांकि मायावती ने अभी अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है।

चुनाव के पहले चरण के लिए बसपा और सपा के मुखिया ने साझा रैली करने के लिए प्लान तैयार कर लिया है। दोनों पहले चरण के लिए देवबंद से प्रचार करेंगे। बताया जा रहा है कि दोनों के साझा रैलियों से यूपी का चुनावी गणित बदल जायेगा। हालांकि भाजपा इसको लूट, खसोट का गठबंधन बता रही है।

मुलायम के लिए प्रचार कर देना चाहती हैं यह संदेश
गेस्ट हाउस कांड के बाद मायावती और मुलायम की पार्टियों के बीच काफी दूरियां बढ़ गयीं थीं। दोनों के बीच राजनैतिक के साथ अपसी दुश्मनी भी थी। लेकिन सपा—बसपा के गठबंधन के बाद मायावती इसको भुलाकर यूपी में एक बड़ा संदेश देना चाहती हैं। इसक साथ ही सपा वोटरों को विश्वास भी दिलाना चाहती हैं।

आज घोषणा कर सकती हैं मायावती अपने प्रत्याशी
बसपा ने लोकसभा के अपने उम्मीदवारों की घो​षणा नहीं की है। बताया जा रहा है कि आज मायावती दिल्ली से अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर सकती है। मायावती ने सभी प्रत्याशियों के नाम लगभग तय कर लिए हैं।

लखनऊ। लोकसभा चुनाव को लेकर हुए सपा—बसपा का गठबंधन बीजेपी को रोकने की कोशिश में है। चुनाव करीब आते ही दोनों पार्टियों के मुखिया साझा चुनाव प्रचार करने की भी रणनीति बना लिए हैं। ऐसे में चर्चा है कि मैनपुरी से चुनाव लड़ रहे मुलायम सिंह के लिए मायावती प्रचार करेंगी।लोकसभा चुनाव के मद्देनजर मायावती का यह बड़ा फैसला माना जा रहा है।


सपा और बसपा के गठबंधन ने यूपी में एक नये सियासी समीकरण बना दिया है। दोनों पार्टियों के मुखिया मोदी सरकार पर जमकर निशाना साध रहे हैं। वह मोदी सरकार की नीतियों का विरोध कर रहे हैं। सपा ने अपने कई प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है, जिसमें मुलायम सिंह को मैनपुरी से प्रत्याशी बनाया है। हालांकि मायावती ने अभी अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है।

चुनाव के पहले चरण के लिए बसपा और सपा के मुखिया ने साझा रैली करने के लिए प्लान तैयार कर लिया है। दोनों पहले चरण के लिए देवबंद से प्रचार करेंगे। बताया जा रहा है कि दोनों के साझा रैलियों से यूपी का चुनावी गणित बदल जायेगा। हालांकि भाजपा इसको लूट, खसोट का गठबंधन बता रही है।

मुलायम के लिए प्रचार कर देना चाहती हैं यह संदेश
गेस्ट हाउस कांड के बाद मायावती और मुलायम की पार्टियों के बीच काफी दूरियां बढ़ गयीं थीं। दोनों के बीच राजनैतिक के साथ अपसी दुश्मनी भी थी। लेकिन सपा—बसपा के गठबंधन के बाद मायावती इसको भुलाकर यूपी में एक बड़ा संदेश देना चाहती हैं। इसक साथ ही सपा वोटरों को विश्वास भी दिलाना चाहती हैं।

आज घोषणा कर सकती हैं मायावती अपने प्रत्याशी
बसपा ने लोकसभा के अपने उम्मीदवारों की घो​षणा नहीं की है। बताया जा रहा है कि आज मायावती दिल्ली से अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर सकती है। मायावती ने सभी प्रत्याशियों के नाम लगभग तय कर लिए हैं।