मायावती ने कहा- मैं किसी की बुआ नहीं, सम्मानजनक सीटें मिलने पर ही गठबंधन

mayawati
योगी सरकार में प्रदेश के ब्राह्मणों का शोषण हो रहा: मायावती

लखनऊ। 2019 में बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए यूपी में संभावित महागठबंधन पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने रविवार को बड़ा बयान दिया। मायावती ने कहा कि हम गठबंधन के खिलाफ नही हैं लेकिन गठबंधन में सम्मानजनक सीटें मिलने पर ही गठबंधन किया जाएगा।

Maywati Says People Try To Take Political Advantage By Calling Her Bua :

हम देश के साथ ही प्रदेश में भी महागठबंधन के पक्ष में हैं, लेकिन सम्मानजनक सीट न मिलने पर हम अकेले ही लोकसभा चुनाव के मैदान में उतरेंगे। इसके लिए हमारी तैयारी भी है। उन्होंने साफ कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव (2014) में हमारी पार्टी का प्रदर्शन अन्य के मुकाबले काफी अच्छा था। हमारा वोट प्रतिशत भी अधिक था और हमने ही भाजपा से डटकर मुकाबला किया था। उन्होंने कहा कि राज्यों के चुनाव के साथ लोकसभा के चुनाव में भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए विपक्षी पार्टियां काम कर रही हैं।

यूपी में महागठबंधन करने पर मायावती ने जवाब दिया कि हम किसी भी चुनाव में किसी भी प्रदेश में किसी से भी गठबंधन के लिए तैयार हैं बशर्ते हमें सम्मानजनक सीटें मिलें, नहीं तो हम अकेले ही चुनाव लड़ेंगे। वहीं, अभी हाल ही में जेल से छूटे भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर द्वारा उन्हें ‘बुआजी’ कहे जाने पर मायावती ने जवाब दिया कि मेरा मतलब दलित, आदिवासी, पिछड़ी जाति के लोगों व आम जनता से है। बाकी किसी से मेरा कोई संबंध नहीं।

मायावती ने महंगाई को लेकर केंद्र की मोदी सरकार को भी घेरा। मायावती ने कहा कि बीजेपी महंगाई और बेरोजगारी पर लगाम लगाने में विफल रही है। उन्होंने नोटबंदी का भी जिक्र किया और कहा कि नोटबंदी राष्ट्रीय त्रासदी के रूप में सामने है। वहीं, राफेल घोटाले को लेकर भी बीएसपी सुप्रीमो ने बीजेपी पर निशाना साधा। पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि बीजेपी अटलजी के मौत का भी सियासी फायदा उठाने में जुटी है। उन्होंने बीजेपी पर भीड़तंत्र को बढ़ावा देने का भी आरोप लगाया।

लखनऊ। 2019 में बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए यूपी में संभावित महागठबंधन पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने रविवार को बड़ा बयान दिया। मायावती ने कहा कि हम गठबंधन के खिलाफ नही हैं लेकिन गठबंधन में सम्मानजनक सीटें मिलने पर ही गठबंधन किया जाएगा।हम देश के साथ ही प्रदेश में भी महागठबंधन के पक्ष में हैं, लेकिन सम्मानजनक सीट न मिलने पर हम अकेले ही लोकसभा चुनाव के मैदान में उतरेंगे। इसके लिए हमारी तैयारी भी है। उन्होंने साफ कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव (2014) में हमारी पार्टी का प्रदर्शन अन्य के मुकाबले काफी अच्छा था। हमारा वोट प्रतिशत भी अधिक था और हमने ही भाजपा से डटकर मुकाबला किया था। उन्होंने कहा कि राज्यों के चुनाव के साथ लोकसभा के चुनाव में भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए विपक्षी पार्टियां काम कर रही हैं।यूपी में महागठबंधन करने पर मायावती ने जवाब दिया कि हम किसी भी चुनाव में किसी भी प्रदेश में किसी से भी गठबंधन के लिए तैयार हैं बशर्ते हमें सम्मानजनक सीटें मिलें, नहीं तो हम अकेले ही चुनाव लड़ेंगे। वहीं, अभी हाल ही में जेल से छूटे भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर द्वारा उन्हें 'बुआजी' कहे जाने पर मायावती ने जवाब दिया कि मेरा मतलब दलित, आदिवासी, पिछड़ी जाति के लोगों व आम जनता से है। बाकी किसी से मेरा कोई संबंध नहीं।मायावती ने महंगाई को लेकर केंद्र की मोदी सरकार को भी घेरा। मायावती ने कहा कि बीजेपी महंगाई और बेरोजगारी पर लगाम लगाने में विफल रही है। उन्होंने नोटबंदी का भी जिक्र किया और कहा कि नोटबंदी राष्ट्रीय त्रासदी के रूप में सामने है। वहीं, राफेल घोटाले को लेकर भी बीएसपी सुप्रीमो ने बीजेपी पर निशाना साधा। पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि बीजेपी अटलजी के मौत का भी सियासी फायदा उठाने में जुटी है। उन्होंने बीजेपी पर भीड़तंत्र को बढ़ावा देने का भी आरोप लगाया।