अंशुल प्रकाश की मेडिकल रिपोर्ट में चोटें आईं सामने, अमानतुल्ला ने किया सरेंडर

दिल्ली में नौकरशाही और सरकार के बीच तनातनी जारी
दिल्ली में नौकरशाही और सरकार के बीच तनातनी जारी, सीएम की मांफी पर डटी आईएएस एसोसिएशन

Medical Report Clears Anshul Prakash Sustained Injuries That Night

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशुल प्रकाश के साथ मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के आवास पर सोमवार की रात 12 बजे हुई मारपीट का मामला तूल पकड़ता नजर आ रहा है। अशुंल प्रकाश की शिकायत के आधार पर दिल्ली पुलिस ने देवली विधायक प्रकाश जारवाल को मंगलवार की रात गिरफ्तार कर लिया था, जबकि दूसरे विधायक अमानतुल्ला खान ने बुधवार की दोपहर सरेंडर कर दिया। वहीं दूसरी ओर दिल्ली पुलिस की ओर से करवाए गए अंशुल प्रकाश के डाक्टरी परीक्षण में उनके चेहरे और कंधे पर चोट के निशान और सूजन होने की पुष्टि होने के बाद यह मामला मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लिए गले की फंस बनता नजर आ रहा है।

इस मामले को लेकर मुख्य ​सचिव अंशुल प्रकाश की ओर से जारी किए गए एक पत्र में पूरी घटना को क्रमबद्ध तरीके से पेश किया गया है। जिसमें उन्होंने स्पष्ट किया है कि उनके साथ हुई बद्सलूकी की वजह केजरीवाल सरकार के कार्यकाल के तीन साल पूरे होने को लेकर जारी होने वाले टीवी विज्ञापन थी।

उन्होंने स्पष्ट किया है कि टीवी विज्ञापन जारी न होने को लेकर अरविन्द केजरीवाल के निजी सचिव वीके जैन और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने उन्हें पहले भी कॉल किए थे। फोन पर उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की ओर से जारी सरकारी विज्ञापनों को लेकर निर्देशों के पालन का हवाला देते हुए विज्ञापन जारी न किए जाने की बात कही गई थी। जिसके बाद उन्हें वीके जैन की ओर से कॉल आया था और उन्हें रात 12 बजे बैठक के लिए बुलाया गया था।

अंशुल प्रकाश ने स्पष्ट किया है कि वह देर रात मीटिंग के लिए अपनी निजी गाड़ी से अपने सुरक्षाकर्मी के साथ मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे। जहां उन्हें एक कमरे में ले जाया गया। जहां अरविंद केजरीवाल ने उनका परिचय कमरे में मौजूद करीब 11 विधायकों से करवाया और उन्हेंं तीन लोगों की क्षमता वाले सोफे पर अमानतुल्ला खान और प्रकाश जारवाल के बीच बैठने को कहा गया गया।

इस पूरे मामले में सामने आ रही कहानी और आम आदमी पार्टी की ओर से दी जा रही सफाई को देखने के बाद मुख्य सचिव के आरोप बेहद पुख्ता नजर आ रहे हैं। विपक्षी दलों ने भी अंशुल प्रकाश के समर्थन में आकर केजरीवाल सरकार और सीएम अरविन्द केजरीवाल को घेरना शुरू कर दिया है।

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशुल प्रकाश के साथ मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के आवास पर सोमवार की रात 12 बजे हुई मारपीट का मामला तूल पकड़ता नजर आ रहा है। अशुंल प्रकाश की शिकायत के आधार पर दिल्ली पुलिस ने देवली विधायक प्रकाश जारवाल को मंगलवार की रात गिरफ्तार कर लिया था, जबकि दूसरे विधायक अमानतुल्ला खान ने बुधवार की दोपहर सरेंडर कर दिया। वहीं दूसरी ओर दिल्ली पुलिस की ओर से करवाए गए अंशुल प्रकाश के डाक्टरी…