1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. मीनाक्षी लेखी ने ‘पेगासस जासूसी कांड’ को फेक बताया, कही- ये बड़ी बात

मीनाक्षी लेखी ने ‘पेगासस जासूसी कांड’ को फेक बताया, कही- ये बड़ी बात

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर 'पेगासस जासूसी कांड' को फेक बताया है। इसके साथ ही उन्होंने एमनेस्टी ने लिस्ट को नकारा है। उन्होंने कहा कि ये पूरा मामला फेक है। इसके जरिए देश की छवि पर प्रहार किया गया है। इसके बावजूद विपक्ष संसद की कार्यवाही में बाधा डाल रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर ‘पेगासस जासूसी कांड’ को फेक बताया है। इसके साथ ही उन्होंने एमनेस्टी ने लिस्ट को नकारा है। उन्होंने कहा कि ये पूरा मामला फेक है। इसके जरिए देश की छवि पर प्रहार किया गया है। इसके बावजूद विपक्ष संसद की कार्यवाही में बाधा डाल रहा है। कांग्रेस और टीएमसी का बर्ताव बिलकुल ठीक नहीं है। एनएसओ ने भी लिस्ट से इनकार किया है।

पढ़ें :- National Education Policy 2020 के एक साल पूरे : पीएम मोदी, बोले- 11 भाषाओं में होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई

मीनाक्षी की नजरों में किसान आंदोलन की आड़ में पॉलिटिकल एजेंडे को धार दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सिर्फ एक नेरेटिव को आगे बढ़ाया जा रहा है। वहीं विदेश राज्य मंत्री ने जोर देकर कहा कि भारत सरकार अपने लोगों के डाटा प्रोटेक्शन को लेकर संवेदनशील है। किसी भी कीमत पर उसके साथ समझौता नहीं किया जाएगा। उनकी तरफ से स्पष्ट कर दिया है कि पैगासस विवाद के जरिए जनता के मुद्दों को नजरअंदाज करने का प्रयास किया जा रहा है। गुरुवार को संसद में टीएमसी सांसद शांतनु सेन की हरकत पर भी मीनाषी लेखी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव के हाथ से पेपर छीनने पर मीनाषी ने तल्ख अंदाज में कहा है कि टीएमसी के झूठे नेरेटिव का पर्दाफाश हो गया है?

बता दें कि संसद मॉनसून सत्र के तीसरे दिन भी कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ़ गई। तो वहीं दूसरी तरफ आज सदन के बाहर जंतर-मंतर पर किसानों की ‘संसद’ चल रही है। इस मॉनसून सत्र में किसानों के मसले के अलावा विपक्ष कोरोना, पेगासस, महंगाई जैसे मुद्दोंं पर सरकार को घेरने में जुटा है। अब तक की सदन की कार्यवाही में कुछ खास नहीं हो पाया है।

बता दें कि दोपहर दो बजे राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई तो संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव जासूसी कांंड पर सरकार का पक्ष रखने आए। तो उनके हाथ से स्टेटमेंट का पेपर छीनकर टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने फाड़कर उपसभापति की तरफ उछाल दिया। इसके बाद ही विपक्षी दलों के नेताओं ने हंगामा शुरू कर दिया, जिसके बाद राज्यसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गई।

पढ़ें :- केरल में कोरोना हुआ कंट्रोल से बाहर, अब मोदी सरकार की टीम संभालेगी मोर्चा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...