मेरठ: सीआरफीएफ कमांडो को जेल भेजने का मामला पहुंचा गृह मंत्रालय, पत्नी व बेटे को बुलाया गया दिल्ली

meerat police
मेरठ: सीआरफीएफ कमांडो को जेल भेजने का मामला पहुंचा गृह मंत्रालय, पत्नी व बेटे को बुलाया गया दिल्ली

नई दिल्ली। जम्मू—कश्मीर के बारामूला में तैनात सीआरपीएफ कमांडो सतेंद्र चौधरी को तीन मुकदमे लगाकर जेल भेजने का मामला सीआरपीएफ मुख्यालय और गृह मंत्रालय तक पहुंच गया है। जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने पीड़ित की पत्नी व बेटे को दिल्ली बुलाया गया है। उधर, फौजी के परिजनों ने मुख्यमंत्री से पुलिस ज्यादती की शिकायत की है।

Meerat Police Sent The Commando In Jail Who Killed Terrorists On Border :

बता दें कि मेरठ के मेडिकल थाना क्षेत्र के शास्त्रीनगर के-ब्लॉक निवासी सतेंद्र चौधरी सीआरपीएफ में हेड कांस्टेबल हैं। वो 15 दिन की छुट्टी पर घर आए हुए हैं। बताया जा रहा है कि बुधवार रात बाइक तेज चलाने को लेकर डिलीवरी ब्वॉय विवेक त्रिपाठी से उनका विवाद हुआ। जिसके बाद पुलिस ने उन्हे लूट, पुलिस से मारपीट करने और लाइसेंसी पिस्टल का दुरुपयोग करने के तीन मुकदमे दर्ज कर जेल भेज दिया गया।

जिसके बाद सतेन्द्र चौधरी की पत्नी ने मामले की जानकारी सीआरपीएफ कमांडेंट को दी। कमांडेंट ने गृह मंत्रालय के अधिकारियों को अवगत कराया। जिसके बाद उनकी पत्नी एवं बेटे देवांशु को गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने दिल्ली बुलाया है। अब वो सोमवार को दिल्ली जाएंगे। अब कयास लगाए जा रहे हैं कि मेरठ पुलिस के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जा सकती है।

नई दिल्ली। जम्मू—कश्मीर के बारामूला में तैनात सीआरपीएफ कमांडो सतेंद्र चौधरी को तीन मुकदमे लगाकर जेल भेजने का मामला सीआरपीएफ मुख्यालय और गृह मंत्रालय तक पहुंच गया है। जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने पीड़ित की पत्नी व बेटे को दिल्ली बुलाया गया है। उधर, फौजी के परिजनों ने मुख्यमंत्री से पुलिस ज्यादती की शिकायत की है। बता दें कि मेरठ के मेडिकल थाना क्षेत्र के शास्त्रीनगर के-ब्लॉक निवासी सतेंद्र चौधरी सीआरपीएफ में हेड कांस्टेबल हैं। वो 15 दिन की छुट्टी पर घर आए हुए हैं। बताया जा रहा है कि बुधवार रात बाइक तेज चलाने को लेकर डिलीवरी ब्वॉय विवेक त्रिपाठी से उनका विवाद हुआ। जिसके बाद पुलिस ने उन्हे लूट, पुलिस से मारपीट करने और लाइसेंसी पिस्टल का दुरुपयोग करने के तीन मुकदमे दर्ज कर जेल भेज दिया गया। जिसके बाद सतेन्द्र चौधरी की पत्नी ने मामले की जानकारी सीआरपीएफ कमांडेंट को दी। कमांडेंट ने गृह मंत्रालय के अधिकारियों को अवगत कराया। जिसके बाद उनकी पत्नी एवं बेटे देवांशु को गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने दिल्ली बुलाया है। अब वो सोमवार को दिल्ली जाएंगे। अब कयास लगाए जा रहे हैं कि मेरठ पुलिस के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जा सकती है।