मेरठ: शादी में गए पूर्व सांसद के रिश्तेदार पर फायरिंग

meerut firing, मेरठ फायरिंग
मेरठ: शादी में गए पूर्व सांसद के रिश्तेदार पर फायरिंग
मेरठ। मेरठ में बारह साल पहले हुई एक हत्या मामले से हुई रंजिश में गुरुवार रात एक शादी समारोह में जमकर फायरिंग हुई। बताया जाता है कि शादी में शामिल होने आए पूर्व सांसद शाहिद अखलाक के रिश्तेदार से आधा दर्जन हमलावरों की पहले गालीगलौज हुई और इसके बाद मारपीट शुरु हो गई। जब तक कोई कुछ समझ पाता हमलावरों ने पिस्टल निकाली और कई राउंड फायरिंग की। शादी में समारोह में अचानक शुरु हुई फायरिंग से वहां हड़कंप मच…

मेरठ। मेरठ में बारह साल पहले हुई एक हत्या मामले से हुई रंजिश में गुरुवार रात एक शादी समारोह में जमकर फायरिंग हुई। बताया जाता है कि शादी में शामिल होने आए पूर्व सांसद शाहिद अखलाक के रिश्तेदार से आधा दर्जन हमलावरों की पहले गालीगलौज हुई और इसके बाद मारपीट शुरु हो गई। जब तक कोई कुछ समझ पाता हमलावरों ने पिस्टल निकाली और कई राउंड फायरिंग की। शादी में समारोह में अचानक शुरु हुई फायरिंग से वहां हड़कंप मच गया। मौके पर मौजूद लोगों ने हमलावरो को ललकारा तो हमलावर असलहा लहराते हुए वहां से भाग निकले। फिलहाल पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कर ली है। वही ये पूरी घटना सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई।

जानकारी के अनुसार हाजी सरताज कुरैशी पूर्व पार्षद हैं। उनके बेटे की बारात गुरूवार रात ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के मुकुट महल में आई। समारोह में पूर्व सांसद शाहिद अखलाक के बहनोई हाजी खान निवासी पूर्वा इलाही बक्स के छोटे भाई शान मोहम्मद कुरैशी भी शरीक हुए। बताया जाता है कि निकाह की रस्में चल रही थी, तभी वहां पहुंचे आधा दर्जन हमलावर शान मोहम्मद से भिड़ गए और गालीगलौज करने लगे।

{ यह भी पढ़ें:- लखनऊ: अचानक प्लेटफॉर्म बदलने से मची भगदड़, 1 की मौत कई घायल }

शान ने इसका विरोध किया तो हमलावरों ने पीटना शुरू कर दिया, इस दौरान उन पर कई राउंड फायर ​भी किए। हालाकि वो बाल बाल बच गए। इस गोलीबारी से शादी समारोह में भगदड़ मच गई। लोग मंडप छोड़कर भागने लगे, जिसके बाद हमलावरों ने पथराव कर दिया और फिर असलहे लहराते हुए वहां से फरार हो गए।

घटना की सूचना पाकर ब्रहृमपुर पुलिस मौके पर पहुंची और सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर कब्जे में लेकर छानबीन शुरु की। पीड़ित ने तीन लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। उसका कहना है कि हमलावरों को दबोचने के लिए दबिश दी जा रही है, जल्द ही आरोपी पुलिस की पकड़ में होंगे।

{ यह भी पढ़ें:- मंत्री ओमप्रकाश राजभर पर भारी पड़े अंसारी बंधु, कासिमाबाद ब्लॉक पर जमाया कब्जा }

Loading...