मेरठ में दलित-ठाकुरों के बीच खूनी संघर्ष में एक युवक की हत्या, पुलिस फोर्स तैनात

मेरठ में दलित-ठाकुरों के बीच खूनी संघर्ष में एक युवक की हत्या, पुलिस फोर्स तैनात
मेरठ में दलित-ठाकुरों के बीच खूनी संघर्ष में एक युवक की हत्या, पुलिस फोर्स तैनात

Meerut Two Groups Clash Over Kanwar Yatra In Meerut One Killed Tension Prevails

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में गुरुवार को दलित और ठाकुरों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। इस जातीय संघर्ष में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि करीब आधा दर्जन लोग घायल हैं। जिसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने उदयपुर चौराहे पर शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। घटना मेरठ के थाना इंचौली क्षेत्र के उदयपुर गांव की है। सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी भी भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए।

बताया जा रहा है कि बुधवार रात कांवड़ यात्रा देखने को लेकर दो पक्षों के युवकों में झगड़ा हो गया था। देर रात दोनों पक्षों के बीच समझौता भी करा दिया गया। लेकिन गुरुवार सुबह पीड़ित युवक के परिजन अपने बेटे के साथ दूसरे पक्ष के घर शिकायत करने पहुंच गए। जहां दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। दोनों तरफ से पथराव भी हुआ। जिसमें दो महिला समेत आधा दर्जन लोग घायल हो गए। इस हंगामे और पत्थरबाजी के दौरान रोहित नाम के एक युवक की मौत हो गई।

हत्या से आक्रोशित ग्रामीणों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। जाम लगने की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत करने की कवायद में जुटी है। वहीं मृतक के परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हैं। पुलिस ने अब तक इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि मृतक के परिजन अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

आपको बता दें कि ऊलेदपुर गांव में ठाकुर और अनुसूचित जाति के बीच तनाव की खबरें अक्सर आती रहती हैं। करीब तीन साल से इन समुदायों के बीच विवाद चल रहा है। मिली जानकारी के अनुसार अनुसूचित जाति के तीन युवक बुधवार रान कांवड़ देखने मोदीपुरम गए थे। रास्ते में ठाकुर पक्ष के लोगों ने उनके साथ मारपीट कर दी। रात को जैसे-तैसे माहौल शांत हो गया लेकिन सुबह होते ही ये फिर भड़क गया और अनुसूचित जाति के लोग ठाकुरों की बस्ती में पहुंच गए। जहां लाठी-डंडे और धारदार हथियार चले जिसमें युवक की जान चली गई।

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में गुरुवार को दलित और ठाकुरों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। इस जातीय संघर्ष में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि करीब आधा दर्जन लोग घायल हैं। जिसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने उदयपुर चौराहे पर शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। घटना मेरठ के थाना इंचौली क्षेत्र के उदयपुर गांव की है। सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी भी भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। बताया जा रहा…