लोकसभा कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ़ी, दिनभर के लिए स्थगित

लोकसभा हंगामे की भेंट चढ़ी, दिनभर के लिए स्थगित
लोकसभा हंगामे की भेंट चढ़ी, दिनभर के लिए स्थगित

नई दिल्ली। संसद का निचले सदन लोकसभा शुक्रवार को लगातार पांचवें दिन भी हंगामे की भेंट चढ़ गया। विपक्ष के 12,600 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) और अन्य मुद्दों पर हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई।

Meeting Of Lok Sabha Rallies Adjourned For A Day :

सदन की कार्यवाही सुबह शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया था, जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। इसके बाद दोपहर 12 बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू हुई, एक बार फिर विपक्षी सांसद अपनी मांगों को लेकर लोकसभा अध्यक्ष के आसन के पास इकट्ठा हो गए।

कांग्रेस सांसद नीरव मोदी के देश छोड़कर फरार होने को लेकर सवाल कर रहे थे जबकि तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के सांसद आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर हंगामा कर रही थी। एआईएडीएमके पार्टी के सांसदों ने कावेरी नदी विवाद को लेकर बोर्ड के गठन की मांग को लेकर हंगामा किया, जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी।

नई दिल्ली। संसद का निचले सदन लोकसभा शुक्रवार को लगातार पांचवें दिन भी हंगामे की भेंट चढ़ गया। विपक्ष के 12,600 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) और अन्य मुद्दों पर हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई।सदन की कार्यवाही सुबह शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया था, जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। इसके बाद दोपहर 12 बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू हुई, एक बार फिर विपक्षी सांसद अपनी मांगों को लेकर लोकसभा अध्यक्ष के आसन के पास इकट्ठा हो गए।कांग्रेस सांसद नीरव मोदी के देश छोड़कर फरार होने को लेकर सवाल कर रहे थे जबकि तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के सांसद आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर हंगामा कर रही थी। एआईएडीएमके पार्टी के सांसदों ने कावेरी नदी विवाद को लेकर बोर्ड के गठन की मांग को लेकर हंगामा किया, जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी।