Menstrual Hygiene Day: गर्मियों में पीरियड्स के दौरान ऐसे रखें साफ-सफाई का खास खयाल

Menstrual Hygiene Day: गर्मियों में पीरियड्स के दौरान साफ-सफाई का रखें खास खयाल
Menstrual Hygiene Day: गर्मियों में पीरियड्स के दौरान साफ-सफाई का रखें खास खयाल

लखनऊ। आज यानि 28 मई को दुनियाभर में मेन्स्ट्रुअल हाइजीन डे यानी मासिक धर्म स्वच्छता दिवस मनाया जाता है। महिलाओं को मेन्स्ट्रुएशन यानी मासिक धर्म के दौरान साफ-सफाई का खास-खयाल रखने के लिए जागरूक करने के मकसद से दुनियाभर में इस दिन को मनाया जाता है। वैसे तो इन दिनों में हमेशा ही साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए लेकिन एक्सपर्ट्स की मानें तो गर्मी के मौसम में पसीने की वजह से खास साफ सफाई की जरूरत होती है। इसकी शुरुआत साल 2014 में हुई थी। जाने कैसे पीरियड्स के दौरान साफ-सफाई का रख सकते हैं खास खयाल…

इन बातों का रखें खयाल

Menstrual Hygiene Day Stay Safe And Clean During Summers :

  • अगर आप पीरियड्स के दौरान सैनिटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं तो आपको उसे नियमित रूप से बदलते रहना चाहिए।
  • हर 4 घंटे बाद पैड बदलना सही रहता है। नहीं तो कम से कम पीरियड्स के शुरुआती 2 दिन जब खून का बहाव अधिक रहता है उस वक्त तो जरूर हर 4 घंटे में पैड बदलें।
  • सैनिटरी नैपकिन्स और टैम्पोन्स की जगह फनल शेप्ड मेन्स्ट्रुअल कप्स का इस्तेमाल करें। ये कप्स सिलिकॉन के बने होते हैं और स्किन फ्रेंडली होने के साथ-साथ वातावरण को भी किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाते।
  • बहुत सी लड़कियां या महिलाएं जिन्हें पीरियड्स के दौरान हेवी ब्लड फ्लो महसूस होता है वे कपड़ों में दाग की टेंशन से बचने के लिए एक साथ 2 सैनिटरी पैड यूज करती हैं। ऐसा बिलकुल न करें। इससे वजाइना और आसपास के हिस्से में इंफेक्शन का खतरा रहता है। एक बार में 1 ही पैड यूज करें और फ्लो अधिक हो तो नियमित रूप से पैड चेंज करते रहें।
लखनऊ। आज यानि 28 मई को दुनियाभर में मेन्स्ट्रुअल हाइजीन डे यानी मासिक धर्म स्वच्छता दिवस मनाया जाता है। महिलाओं को मेन्स्ट्रुएशन यानी मासिक धर्म के दौरान साफ-सफाई का खास-खयाल रखने के लिए जागरूक करने के मकसद से दुनियाभर में इस दिन को मनाया जाता है। वैसे तो इन दिनों में हमेशा ही साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए लेकिन एक्सपर्ट्स की मानें तो गर्मी के मौसम में पसीने की वजह से खास साफ सफाई की जरूरत होती है। इसकी शुरुआत साल 2014 में हुई थी। जाने कैसे पीरियड्स के दौरान साफ-सफाई का रख सकते हैं खास खयाल... इन बातों का रखें खयाल
  • अगर आप पीरियड्स के दौरान सैनिटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं तो आपको उसे नियमित रूप से बदलते रहना चाहिए।
  • हर 4 घंटे बाद पैड बदलना सही रहता है। नहीं तो कम से कम पीरियड्स के शुरुआती 2 दिन जब खून का बहाव अधिक रहता है उस वक्त तो जरूर हर 4 घंटे में पैड बदलें।
  • सैनिटरी नैपकिन्स और टैम्पोन्स की जगह फनल शेप्ड मेन्स्ट्रुअल कप्स का इस्तेमाल करें। ये कप्स सिलिकॉन के बने होते हैं और स्किन फ्रेंडली होने के साथ-साथ वातावरण को भी किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाते।
  • बहुत सी लड़कियां या महिलाएं जिन्हें पीरियड्स के दौरान हेवी ब्लड फ्लो महसूस होता है वे कपड़ों में दाग की टेंशन से बचने के लिए एक साथ 2 सैनिटरी पैड यूज करती हैं। ऐसा बिलकुल न करें। इससे वजाइना और आसपास के हिस्से में इंफेक्शन का खतरा रहता है। एक बार में 1 ही पैड यूज करें और फ्लो अधिक हो तो नियमित रूप से पैड चेंज करते रहें।