1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. मौसम विभाग का अलर्ट जारी, इन राज्यों में होगी भारी बारिश

मौसम विभाग का अलर्ट जारी, इन राज्यों में होगी भारी बारिश

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून धीरे-धीरे आगे बढ रहा है। महाराष्ट में मॉनसून के दस्तक देते ही मुंबई में बारिश के चलते हर तरफ अफरा-तफरी मच गई है। इस बीच मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे की दौरान कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून धीरे-धीरे आगे बढ रहा है। महाराष्ट में मॉनसून के दस्तक देते ही मुंबई में बारिश के चलते हर तरफ अफरा-तफरी मच गई है। इस बीच मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे की दौरान कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

पढ़ें :- कोर्ट के 'सुप्रीम' फैसले के बाद भाजपा का 'जोश हाई', सरकार बनाने की कवायद शुरू

मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव के क्षेत्र बनने से बंगाल और ओडिशा सहित देश के कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है। इसके मुताबिक कोंकण और गोवा में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा और पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ और तटीय आंध्र प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर और उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, पश्चिम मध्य प्रदेश, गंगीय पश्चिम बंगाल में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। इसके अलावा अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, असम और मेघालय, गुजरात क्षेत्र, मध्य महाराष्ट्र तेलंगाना और तटीय कर्नाटक में भी बारिश की आशंका है।

बंगाल और ओडिशा में अलर्ट

विभाग ने बताया कि उत्तर पश्चिमी बंगाल की खाड़ी के ऊपर साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है जिसकी वजह से उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी और आसपास के इलाके में अगले 24 घंटे के दौरान कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके अगले 24 घंटे में मजबूत होने और ओडिशा के ऊपर पश्चिम उत्तर पश्चिम दिशा की ओर बढ़ने की संभावना है। मौसम विभाग ने बताया कि इसके (निम्न दाब क्षेत्र) प्रभाव से विस्तृत क्षेत्र में बारिश की गतिविधियां देखने को मिलेगी और पूर्वी भारत के अधिकतर हिस्सों और उससे जुड़े मध्य क्षेत्र में भारी बारिश होने की संभावना है।

11 और 12 जून को ओडिशा के इलाकों में भारी बारिश (20 सेंटीमीटर) बारिश होने की संभावना है। इसी प्रकार 11- 13 जून को छत्तीसगढ़ में, 13 जून को पूर्वी मध्यप्रदेश में और 12-13 जून को विदर्भ में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान है। आईएमडी ने बताया कि तटीय इलाकों में निम्न दाब के साथ पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने की वजह से महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में 10 से 15 जून तक और तटीय कर्नाटक में 12 से 15 जून तक मूसलाधार बारिश का दौर जारी रहने का पूर्वानुमान है।

पढ़ें :- भाजपा सांसद बोले- गांधी जी ने कराई थी सुभाष चंद्र बोस की हत्या, बढ़ा विवाद तो ये दी सफाई

केरल में भी 12 से 15 जून तक भारी बारिश होने की संभावना है जबकि कोंकण में 12 से 15 जून के बीच मूसलाधार बारिश होगी। मौसम विभाग ने बताया कि पश्चिम- पश्चिमोत्तर में कम दबाव का क्षेत्र बनने और उसकी वजह से पूर्वोत्तर भारत के कई इलाकों में (राजस्थान को छोड़कर) 12 से 14 जून के बीच बारिश की गतिविधि देखने को मिलेगी। वहीं, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में भी 12 जून को मूसलाधार बारिश का पूर्वानुमान है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...