1. हिन्दी समाचार
  2. 239 लोगों को ले जा रहे MH-370 प्लेन को पायलट ने जानबूझकर किया था क्रैश

239 लोगों को ले जा रहे MH-370 प्लेन को पायलट ने जानबूझकर किया था क्रैश

Mh370 Pilot Zaharie Ahmad Shah Was Lonely And Sad And May Have Crashed Plane

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। मलेशिया एयरलाइंस फ्लाइट 370 ने 8 मार्च 2014 को कुआलालंपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से अपने निर्धारित समय पर उड़ान भरी थी, लेकिन बाद में यह रेडार से गायब हो गया था। इसमें 239 लोग सवार थे। बाद में प्लेन के अवशेष हिन्द महासागर में पाए गए। अब इस मामले में एक पत्रिका द्वारा हैरान कर देने वाली जानकारी दी गई है। अब इस मामले में एक पत्रिका ने सनसनीखेज दावा किया है। पत्रिका ने कहा है कि इस प्लेन को उड़ा रहे पायलट जाहिरी अहमद शाह ने इसे जानबूझकर क्रैश किया था।

पढ़ें :- अंडरवर्ल्ड ले डूबा इन 5 अभिनेत्रियों का करियर, कोई गई जेल, तो कोई बनी संन्यासिनी

डिप्रेशन की स्थिति से गुजर रहा था पायलट

पत्रिका द अटलांटिक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, शाह अवसाद की स्थिति से गुजर रहा था। उसकी निजी जिंदगी में सबकुछ ठीक नहीं था। वह दो मॉडल्स को लेकर दीवाना था, जिनकी तस्वीरें उसने इंटरनेट पर देखी थीं। वहीं एयर होस्टेस के साथ संबंधों के कारण उसकी पत्नी उसे छोड़ चुकी थी। उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। इन्हीं सबके चलते वह बेहद तनाव के दौर से गुजर रहा था।

क्रैश से पहले ही चली गई थी यात्रियों की जान!

पत्रिका के दावे के मुताबिक, हादसे की जांच में पता चला है कि विमान के उपकरणों को मैन्युअली बंद किया गया था। इसमें कहा गया है कि पायलट ने इस विमान को क्रैश करने की सोच ली थी। इसीलिए पहले वह विमान को उस ऊंचाई पर ले गया जहां प्लेन के अंदर ऑक्सिजन कम होने लगता है। मुख्य केबिन में ऑक्सिजन मास्क सिर्फ 15 मिनट तक सपोर्ट कर सकता है। शाह के पास कॉकपिट में ऑक्सिजन रही होगी, इसलिए वह कई घंटे तक विमान को काफी ऊंचाई पर घुमाता रहा, और इस दौरान यात्री ऑक्सिजन की कमी से पहले तो बेहोश हुए, और फिर प्लेन के क्रैश होने से पहले ही उनकी जान चली गई।

पढ़ें :- इन अभिनेत्रियों ने अपने दम पर बनाई बॉलीवुड में पहचान, नंबर 1 को मिल चुके है 3 नेशनल अवॉर्ड

प्लेन को लेकर तेजी से समुद्र की तरफ बढ़ा शाह

पत्रिका की रिपोर्ट में बताया गया है कि पहले तो शाह विमान को काफी ऊंचाई पर ले गया, और फिर उसने प्लेन को सीधे नीचे की तरफ मोड़ दिया। इसके चलते विमान काफी तेजी से नीचे आया और समुद्र में जाकर क्रैश हो गया। गौरतलब है कि इस मामले की जांच के बाद सामने आई 495 पेजों की रिपोर्ट में भी इस बात का जिक्र किया गया था कि प्लेन को अपने निर्धारित रूट से दूसरी ओर ले जाने के लिए कंट्रोल्स के साथ जानबूझकर छेड़छाड़ की गई थी। हालांकि उस रिपोर्ट में इस हादसे के लिए किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराया गया था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...