माइकल क्लार्क बोले- आईपीएल की वजह से विराट से डरते हैं कंगारू टीम के खिलाड़ी

khiladi
माइकल क्लार्क बोले- आईपीएल की वजह से विराट से डरते हैं कंगारू टीम के खिलाड़ी

नई दिल्ली। आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क (Michael Clarke) ने दावा किया है कि आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में अपने लुभावने अनुबंध को बचाये रखने के लिये इतने बेताब थे कि वे एक खास समय के दौरान भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और उनके साथियों पर छींटाकशी करने से डरते थे और इसके बजाय उनकी चाटुकारिता करते थे।

Michael Clarke Said Kangaroo Team Players Are Afraid Of Virat Because Of Ipl :

भारत और आस्ट्रेलिया के बीच कुछ यादगार द्विपक्षीय मुकाबले हुए है लेकिन क्लार्क का मानना है कि जब भी आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भारत का सामना करते हैं तो उनकी निगाहें हर साल अप्रैल मई में होने वाले आईपीएल पर लगी रहती हैं।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर आरोप लगाया है कि उन्होंने टीम के ज्यादातर खिलाड़ी आईपीएल को ध्यान में रखकर टीम इंडिया के खिलाफ अपनी रणनीतियां बना रहे थे। इसी कारण वे विराट कोहली और उनके बाकी खिलाड़ियों के प्रति जरूरत से ज्यादा सॉफ्ट रहे, ताकि उन्हें आईपीएल से मोटी डील हासिल हो सके।

क्लार्क ने ऑस्ट्रेलिया के एक रेडियो प्रोग्राम ‘द बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफस्ट’ से यह बात कही। 2018-19 में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर थी और यहां भारतीय टीम ने 4 टेस्ट की सीरीज में मेजबान टीम को 2-1 से शिकस्त दी थी। 71 साल के इतिहास में यह पहला मौका था, जब भारत ने कंगारूओं को उनकी अपनी मिट्टी पर मात दी।

इस हार से अब तक दुखी इस पूर्व कंगारू कप्तान ने कहा, ‘सभी जानते हैं कि इस खेल के वित्तीय मामलों में भारत कितना मजबूत है। यह अमीरी चाहे फिर इंटरनैशनल लेवल पर हो या फिर आईपीएल के साथ घरेलू स्तर पर।’

उन्होंने कहा, ‘हमारे खिलाड़ी कोहली ऐंड कंपनी से थोड़े डरे हुए थे क्योंकि उन्हें अप्रैल (2019) में उन्हीं के साथ आईपीएल में जो खेलना था। इसलिए वे उनकी स्लेजिंग करने से कतरा रहे थे। खिलाड़ियों को डर था कि अगर यहां ज्यादा स्लेजिंग की तो फिर आईपीएल का मोटा कॉन्ट्रैक्ट हाथ से निकल सकता है।’

उन्होंने कहा कि कई खिलाड़ियों को चिंता थी कि अगर उन्होंने कोहली को स्लेज किया तो उसका खामियाजा उन्हें आईपीएल ऑक्शन में भुगतना पड़ेगा। क्लार्क ने कहा कि दुनिया भर की टीमें इन दिनों भारतीय टीम के साथ यही व्यवहार कर रही हैं।  

नई दिल्ली। आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क (Michael Clarke) ने दावा किया है कि आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में अपने लुभावने अनुबंध को बचाये रखने के लिये इतने बेताब थे कि वे एक खास समय के दौरान भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और उनके साथियों पर छींटाकशी करने से डरते थे और इसके बजाय उनकी चाटुकारिता करते थे। भारत और आस्ट्रेलिया के बीच कुछ यादगार द्विपक्षीय मुकाबले हुए है लेकिन क्लार्क का मानना है कि जब भी आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भारत का सामना करते हैं तो उनकी निगाहें हर साल अप्रैल मई में होने वाले आईपीएल पर लगी रहती हैं। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर आरोप लगाया है कि उन्होंने टीम के ज्यादातर खिलाड़ी आईपीएल को ध्यान में रखकर टीम इंडिया के खिलाफ अपनी रणनीतियां बना रहे थे। इसी कारण वे विराट कोहली और उनके बाकी खिलाड़ियों के प्रति जरूरत से ज्यादा सॉफ्ट रहे, ताकि उन्हें आईपीएल से मोटी डील हासिल हो सके। क्लार्क ने ऑस्ट्रेलिया के एक रेडियो प्रोग्राम 'द बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफस्ट' से यह बात कही। 2018-19 में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर थी और यहां भारतीय टीम ने 4 टेस्ट की सीरीज में मेजबान टीम को 2-1 से शिकस्त दी थी। 71 साल के इतिहास में यह पहला मौका था, जब भारत ने कंगारूओं को उनकी अपनी मिट्टी पर मात दी। इस हार से अब तक दुखी इस पूर्व कंगारू कप्तान ने कहा, 'सभी जानते हैं कि इस खेल के वित्तीय मामलों में भारत कितना मजबूत है। यह अमीरी चाहे फिर इंटरनैशनल लेवल पर हो या फिर आईपीएल के साथ घरेलू स्तर पर।' उन्होंने कहा, 'हमारे खिलाड़ी कोहली ऐंड कंपनी से थोड़े डरे हुए थे क्योंकि उन्हें अप्रैल (2019) में उन्हीं के साथ आईपीएल में जो खेलना था। इसलिए वे उनकी स्लेजिंग करने से कतरा रहे थे। खिलाड़ियों को डर था कि अगर यहां ज्यादा स्लेजिंग की तो फिर आईपीएल का मोटा कॉन्ट्रैक्ट हाथ से निकल सकता है।' उन्होंने कहा कि कई खिलाड़ियों को चिंता थी कि अगर उन्होंने कोहली को स्लेज किया तो उसका खामियाजा उन्हें आईपीएल ऑक्शन में भुगतना पड़ेगा। क्लार्क ने कहा कि दुनिया भर की टीमें इन दिनों भारतीय टीम के साथ यही व्यवहार कर रही हैं।