माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्या नडेला के वेतन-भत्ते में 66% का इजाफा, सैलरी सुन के चौक जायेंगे  

satya nadela
माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्या नडेला के वेतन-भत्ते में 66% का इजाफा, सैलरी सुन के चौक जायेंगे  

नई दिल्ली। दिग्गज टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ( Microsoft ) के सीईओ सत्या नडेला के एक साल में वेतन-भत्ते में 66 फीसदी बढ़ोतरी हुई है। 30 जून को खत्म माइक्रोसॉफ्ट के वित्त वर्ष (2018-19) में नडेला को कुल 4.29 करोड़ डॉलर (306.43 करोड़ रुपए) का कंपेनसेशन मिला। पिछले साल की बात करें, तो वित्त वर्ष 2017-18 में सत्या नडेला को 184.28 करोड़ रुपये यानी 2.58 करोड़ डॉलर मिले थे।  

Microsoft Gives Satya Nadella A 66 Raise Citing Strategic Leadership :

नडेला को 2014 में 8.43 करोड़ डॉलर का कंपेनसेशन मिला था

कारोबारी लक्ष्य हासिल करने और कंपनी के शेयर की कीमत बढ़ने की वजह से बोर्ड ने नडेला के कंपेनसेशन में बढ़ोतरी का फैसला लिया। हालांकि, यह 2014 के कंपेनसेशन की तुलना में करीब आधा है। उस साल नडेला को 8.43 करोड़ डॉलर मिले थे। नडेला की मौजूदा नेटवर्थ 2100 करोड़ रुपए होने का अनुमान है।

स्टॉक कंपेनसेशन की समीक्षा करते हुए माइक्रोसॉफ्ट के स्वतंत्र निदेशकों ने नडेला के रणनीतिक नेतृत्व- ग्राहकों के साथ भरोसा मजबूत करने, कंपनी के तौर-तरीकों में बदलाव, नई तकनीक और नए बाजारों में सफलतापूर्वक एंट्री और विस्तार का खौस तौर से जिक्र किया।

माइक्रोसॉफ्ट की ओर से कहा गया कि नडेला के नेतृत्व में पिछले 5 साल में कंपनी के मार्केट कैप में 509 अरब डॉलर का इजाफा हुआ। इस दौरान कंपनी का टोटल शेयरहोल्डर रिटर्न 97% बढ़ा। इससे नडेला की आय भी बढ़ी।

माइक्रोसॉफ्ट पिछले साल एपल को पीछे छोड़ दुनिया की सबसे ज्यादा वैल्यूएशन वाली कंपनी भी बनी थी। माइक्रोसॉफ्ट का मौजूदा मार्केट कैप 1072 अरब डॉलर और एपल का 1059 अरब डॉलर है।

नई दिल्ली। दिग्गज टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ( Microsoft ) के सीईओ सत्या नडेला के एक साल में वेतन-भत्ते में 66 फीसदी बढ़ोतरी हुई है। 30 जून को खत्म माइक्रोसॉफ्ट के वित्त वर्ष (2018-19) में नडेला को कुल 4.29 करोड़ डॉलर (306.43 करोड़ रुपए) का कंपेनसेशन मिला। पिछले साल की बात करें, तो वित्त वर्ष 2017-18 में सत्या नडेला को 184.28 करोड़ रुपये यानी 2.58 करोड़ डॉलर मिले थे।   नडेला को 2014 में 8.43 करोड़ डॉलर का कंपेनसेशन मिला था कारोबारी लक्ष्य हासिल करने और कंपनी के शेयर की कीमत बढ़ने की वजह से बोर्ड ने नडेला के कंपेनसेशन में बढ़ोतरी का फैसला लिया। हालांकि, यह 2014 के कंपेनसेशन की तुलना में करीब आधा है। उस साल नडेला को 8.43 करोड़ डॉलर मिले थे। नडेला की मौजूदा नेटवर्थ 2100 करोड़ रुपए होने का अनुमान है। स्टॉक कंपेनसेशन की समीक्षा करते हुए माइक्रोसॉफ्ट के स्वतंत्र निदेशकों ने नडेला के रणनीतिक नेतृत्व- ग्राहकों के साथ भरोसा मजबूत करने, कंपनी के तौर-तरीकों में बदलाव, नई तकनीक और नए बाजारों में सफलतापूर्वक एंट्री और विस्तार का खौस तौर से जिक्र किया। माइक्रोसॉफ्ट की ओर से कहा गया कि नडेला के नेतृत्व में पिछले 5 साल में कंपनी के मार्केट कैप में 509 अरब डॉलर का इजाफा हुआ। इस दौरान कंपनी का टोटल शेयरहोल्डर रिटर्न 97% बढ़ा। इससे नडेला की आय भी बढ़ी। माइक्रोसॉफ्ट पिछले साल एपल को पीछे छोड़ दुनिया की सबसे ज्यादा वैल्यूएशन वाली कंपनी भी बनी थी। माइक्रोसॉफ्ट का मौजूदा मार्केट कैप 1072 अरब डॉलर और एपल का 1059 अरब डॉलर है।