1. हिन्दी समाचार
  2. मंत्री अरुण शौरी पर लगा धोखाधड़ी का आरोप, एफआईआर दर्ज

मंत्री अरुण शौरी पर लगा धोखाधड़ी का आरोप, एफआईआर दर्ज

Minister Arun Shourie Accused Of Fraud Fir Registered

By सोने लाल 
Updated Date

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी के खिलाफ स्पेशल सीबीआई कोर्ट के जज पीके शर्मा के जरिए भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी के मामले में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया गया है। राजस्थान के जोधपुर में स्पेशल सीबीआई कोर्ट के जज पीके शर्मा ने अरुण शौरी के खिलाफ एक्शन लिया और उनके खिलाफ भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी के मामले में मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है।

पढ़ें :- कोयला घोटला: 21 साल पुराने केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे को 3 साल की सजा

होटल की बिक्री में कथित भ्रष्टाचार का आरोप

दरअसल शौरी पर सरकार द्वारा संचालित होटल की बिक्री में कथित भ्रष्टाचार का मामला सामने आया था, जिसके बाद उनके खिलाफ एफआईआर का आदेश दिया गया है। ये ममला राजस्थान में उदयपुर के लक्ष्मी विलास पैलेस होटल का है। उदयपुर जिला कलेक्टर को होटल को तुरंत कब्जे में लेने के लिए आदेश दिए गए हैं। अरुण शौरी पर 252 करोड़ रुपये के होटल का साढ़े सात करोड़ रुपये में विनिवेश करने का आरोप है।

विश्व बैंक के साथ एक अर्थशास्त्री के तौर पर भी रहे शौरी

बता दें कि बीजेपी के पूर्व राज्यसभा सांसद अरुण शौरी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली तत्कालीन सरकार में 1999-2004 के दौरान केंद्रीय संचार, सूचना प्रौद्योगिकी एवं विनिवेश मंत्री थे और रेमन मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानित भी हैं। उन्होंने 1967- 1978 के दौरान विश्व बैंक के साथ एक अर्थशास्त्री के रूप में भी काम किया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...