1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी सरकार 2 में मंत्री बेबी रानी मौर्य ने बताया मायावती से दलित वोटरों के विमुख होने का प्रमुख कारण

योगी सरकार 2 में मंत्री बेबी रानी मौर्य ने बताया मायावती से दलित वोटरों के विमुख होने का प्रमुख कारण

योगी सरकार पार्ट टू में महिला कल्याण एंव बाल विकास मंत्री बेबी रानी मौर्य ने बसपा से दलित वोटरों के विमुख होने का प्रमुख कारण बताते हुए पार्टी प्रमुख मायावती पर निशाना साधा है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

लखनऊ। योगी सरकार पार्ट टू में महिला कल्याण एंव बाल विकास मंत्री बेबी रानी मौर्य ने बसपा से दलित वोटरों के विमुख होने का प्रमुख कारण बताते हुए पार्टी प्रमुख मायावती पर निशाना साधा है। बता दें कि जाटव समाज से आने वाली बेबी रानी मौर्य मंत्री बनने से पहले आगरा की मेयर और उत्तराखंड राज्य की राज्यपाल रह चुकि हैं। हाल ही में संपन्न हुए यूपी विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें आगरा से विधानसभा का चुनाव लड़ाया था।

पढ़ें :- ADR Report: जीत की हैट्रिक लगाने वाले सांसदों की संपत्ति में खूब हुआ इजाफा, वरुण गांधी की दौलत भी बढ़ी

वहां से जीत दर्ज करने के बाद बेबी को सत्ता में दोबारा लौटी भाजपा की सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। एक बड़े अखबार को दिये इंटरव्यू में बेबी रानी ने मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि मायावती ने 2007 से 2012 तक सरकार चलाई। उसके बाद से उनकी पार्टी का ग्राफ लगातार नीचे जा रहा है। उन्हें दलितों के मसीहा के रूप में देखा जता था। क्या उन्होंने समुदाय के लिए पर्याप्त काम किया है?

इसके जवाब में बेबी रानी मौर्य ने कहा, ”मायावती दलितों की उम्मीदों को पूरा नहीं किया। उन्हें (दलितों) को उनसे काफी उम्मीदें थीं। उन्हें उम्मीद थी कि मुख्यमंत्री के रूप में वह उनकी सामाजिक और आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए काम करेंगी। लेकिन उन्होंने दलितों को महज वोट बैंक समझा और व्यक्तिगत फायदे के लिए उनका इस्तेमाल किया।’

मौर्य ने आगे कहा, ”ना तो उन्होंने (मायावती) उनके लिए या आम जनता के लिए कोई अस्पताल बनाया, ना कोई शैक्षणिक संस्थान और ना ही कोई प्रशिक्षण केंद्र। जल्द ही दलित बेहतर विकल्प के लिए दोहारे पर खड़े हो गए। मायावती ने कैसे उन्हें ठगा यह समझकर उन्होंने बीजेप को अपनाया। हम उन्हें साथ लेकर चले और उनकी भलाई के लिए हर संभव प्रयास किया। दलित अब हमारे साथ हैं, और आपने देखा होगा कि कैसे समुदाय खासकर जाटव ने इन चुनावों में बीजेपी के लिए वोट किया।

पढ़ें :- Money Laundering Case: राहुल गांधी के करीबी से ईडी ने की पूछताछ, जानिए क्या है पूरा मामला
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...