अखिलेश यादव अपने अनुज राहुल गांधी की कर रहे झूठ की राजनीति: श्रीकांत शर्मा

shrikant sharma akhilesh yadav
अखिलेश यादव अपने अनुज राहुल गांधी की कर रहे झूठ की राजनीति: श्रीकांत शर्मा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। उन्होने कहा कि अखिलेश यादव के बयान उनकी बौखलाहट का नतीजा है। यही वजह है कि वो आए दिन तथ्यहीन आरोप लगाते रहते है। इससे ये साबित होता है कि वो भाजपा के कामों को पचा नहीं पा रहे है। इसीलिए वो अपने अनुज राहुल गांधी का अनुसरण करते हुए झूठ की राजनीति कर रहे हैं।

Minister Shrikant Sharma Says That Akhilesh Is Doing Lie Politics :

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अखिलेश द्वारा सरकार पर लगातार किए जा रहे तीखे हमलों के जवाब में पलटवार किया। उन्होंने राहुल गांधी और मायावती को पर भी जमकर निशाना साधा। श्रीकांत शर्मा ने सभी आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि यह सुनियोजित साजिश के तहत बोला जा रहा है। तंज कसते हुए कहा कि जो व्यक्ति परिवार को साथ लेकर न चल पाए वो दूसरों को नसीहत न दे। धमकी भरे लहजे में उन्होने कहा कि अगर उनके कारनामें खुलने लगे तो बोल नहीं सकेंगे।

आगे उन्होने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों का कर्ज माफ किया, बिचौलियों को खत्म किया, नौकरियों में पारदर्शी तरीके से काम किया। गन्ना किसानों ने खेती का रक़बा बढ़ाया। सीएम गन्ना न उगाने के बयान के सवाल पर कहा कि इसको गलत ढंग से पेश किया जा रहा। अखिलेश ने गन्ने का भुगतान मात्र 15 हजार करोड़ किया, हमने 35 हजार करोड़ का किया। हमारी सरकार में गन्ना सड़क पर फेंकने या जलाने की जरूरत नहीं पड़ी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। उन्होने कहा कि अखिलेश यादव के बयान उनकी बौखलाहट का नतीजा है। यही वजह है कि वो आए दिन तथ्यहीन आरोप लगाते रहते है। इससे ये साबित होता है कि वो भाजपा के कामों को पचा नहीं पा रहे है। इसीलिए वो अपने अनुज राहुल गांधी का अनुसरण करते हुए झूठ की राजनीति कर रहे हैं।ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अखिलेश द्वारा सरकार पर लगातार किए जा रहे तीखे हमलों के जवाब में पलटवार किया। उन्होंने राहुल गांधी और मायावती को पर भी जमकर निशाना साधा। श्रीकांत शर्मा ने सभी आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि यह सुनियोजित साजिश के तहत बोला जा रहा है। तंज कसते हुए कहा कि जो व्यक्ति परिवार को साथ लेकर न चल पाए वो दूसरों को नसीहत न दे। धमकी भरे लहजे में उन्होने कहा कि अगर उनके कारनामें खुलने लगे तो बोल नहीं सकेंगे।आगे उन्होने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों का कर्ज माफ किया, बिचौलियों को खत्म किया, नौकरियों में पारदर्शी तरीके से काम किया। गन्ना किसानों ने खेती का रक़बा बढ़ाया। सीएम गन्ना न उगाने के बयान के सवाल पर कहा कि इसको गलत ढंग से पेश किया जा रहा। अखिलेश ने गन्ने का भुगतान मात्र 15 हजार करोड़ किया, हमने 35 हजार करोड़ का किया। हमारी सरकार में गन्ना सड़क पर फेंकने या जलाने की जरूरत नहीं पड़ी।