केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय की पहल से बढ़ा बिजनौर जिले का कद

बिजनौर। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने हरियाणा के रोहतक में स्थित आइआइएम के बोर्ड ऑफ गवर्नर में बिजनौर के गांव किशनपुर के रहने वाले चौधरी रावेंद्र ङ्क्षसह को शामिल किया गया है। इसमें देश की कुछ पांच हस्तियों को शामिल किया, जिसमें से एक सदस्य बिजनौर का होने के कारण जनपद का गौरव बढ़ा है। चौधरी रावेंद्र ङ्क्षसह के अलावा जिन लोगों को यह सम्मान दिया गया है, उनमें डा. मुरलीधर चंदाकर, वीसी संत गाडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय, वेदप्रकाश महावर निदेशन ओएनजीसी, वृदा राजन चेयरमैन एवं एमडी भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन शामिल हैं।

Ministry Of Human Resource Development :





चौ. रावेन्द्र की यह नियुक्ति पांच साल के लिए हुई है। गौरतलब है कि चौधरी रावेंद्र वर्तमान में दिल्ली में प्रमुख व्यवसायी हैं। करीब दस साल पहले वह बिजनौर से दिल्ली व्यापार के लिए चले गए थे। करीब दो सालों से वह क्षेत्र में ही सक्रिय हैं और राजनीतिक व सामाजिक कार्यो में अहम भूमिका निभा रहे हैं। उन्हे भाजपा ने अहम पद दे रखा है। वह इस समय भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य हैं।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

बिजनौर। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने हरियाणा के रोहतक में स्थित आइआइएम के बोर्ड ऑफ गवर्नर में बिजनौर के गांव किशनपुर के रहने वाले चौधरी रावेंद्र ङ्क्षसह को शामिल किया गया है। इसमें देश की कुछ पांच हस्तियों को शामिल किया, जिसमें से एक सदस्य बिजनौर का होने के कारण जनपद का गौरव बढ़ा है। चौधरी रावेंद्र ङ्क्षसह के अलावा जिन लोगों को यह सम्मान दिया गया है, उनमें डा. मुरलीधर चंदाकर, वीसी संत गाडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय, वेदप्रकाश महावर निदेशन ओएनजीसी, वृदा राजन चेयरमैन एवं एमडी भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन शामिल हैं। चौ. रावेन्द्र की यह नियुक्ति पांच साल के लिए हुई है। गौरतलब है कि चौधरी रावेंद्र वर्तमान में दिल्ली में प्रमुख व्यवसायी हैं। करीब दस साल पहले वह बिजनौर से दिल्ली व्यापार के लिए चले गए थे। करीब दो सालों से वह क्षेत्र में ही सक्रिय हैं और राजनीतिक व सामाजिक कार्यो में अहम भूमिका निभा रहे हैं। उन्हे भाजपा ने अहम पद दे रखा है। वह इस समय भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य हैं।बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट