ओडिसा : 14 साल की बच्ची ने दिया बेटी को जन्म, मचा हड़कंप

miner girl deliverd a baby
ओडिसा : 14 साल की बच्ची ने दिया बेटी को जन्म, मचा हड़कंप

भुवनेश्वर। ओडिशा के कंधमाल जिले में दारिंगबाड़ी के सेवा आश्रम आदिवासी आवासीय विद्यालय में शनिवार रात एक नाबालिग छात्रा ने बेटी को जन्म दिया। इसकी जानकारी प्रशासन को मिली तो हड़कंप मच गया। जिसके बाद छह अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया। बताया जा रहा है कि पीड़िता आठवीं की छात्रा है। फिलहाल, मां और बच्चा स्वस्थ हैं।

Minor Girl Delivers Baby Child In Sevasharm School At Odisha :

बता दें कि बच्ची को जन्म देने के बाद छात्रा को लेकर पास के ही जंगल में भाग गई थी, जहां वो रात भर रही। हालाकि इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस और जिला प्रशासन के अफसर वहां पहुंचे और तड़के जच्चा-बच्चा को सुरक्षित मिल गए। उन्हें स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं इसकी जानकारी छात्रा के परिजनों को मिली तो उन लोगों ने विरोध-प्रदर्शन करते हुए नेशनल हाइवे 59 जाम कर दिया।

फिलहाल इसकी जानकारी एससी/एसटी और अल्पसंख्यक विकास मंत्री रमेश चंद्र माझी को मिली तो उनके आदेश पर कलेक्टर ने हॉस्टल वॉर्डन, अधीक्षक और एक सहायक नर्स समेत सेवा आश्रम के छह अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। बता दें कि सेवा आश्रम हाईस्कूल जनजातीय और ग्रामीण विकास विभाग की ओर से संचालित किया जाता है।

भुवनेश्वर। ओडिशा के कंधमाल जिले में दारिंगबाड़ी के सेवा आश्रम आदिवासी आवासीय विद्यालय में शनिवार रात एक नाबालिग छात्रा ने बेटी को जन्म दिया। इसकी जानकारी प्रशासन को मिली तो हड़कंप मच गया। जिसके बाद छह अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया। बताया जा रहा है कि पीड़िता आठवीं की छात्रा है। फिलहाल, मां और बच्चा स्वस्थ हैं।बता दें कि बच्ची को जन्म देने के बाद छात्रा को लेकर पास के ही जंगल में भाग गई थी, जहां वो रात भर रही। हालाकि इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस और जिला प्रशासन के अफसर वहां पहुंचे और तड़के जच्चा-बच्चा को सुरक्षित मिल गए। उन्हें स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं इसकी जानकारी छात्रा के परिजनों को मिली तो उन लोगों ने विरोध-प्रदर्शन करते हुए नेशनल हाइवे 59 जाम कर दिया।फिलहाल इसकी जानकारी एससी/एसटी और अल्पसंख्यक विकास मंत्री रमेश चंद्र माझी को मिली तो उनके आदेश पर कलेक्टर ने हॉस्टल वॉर्डन, अधीक्षक और एक सहायक नर्स समेत सेवा आश्रम के छह अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। बता दें कि सेवा आश्रम हाईस्कूल जनजातीय और ग्रामीण विकास विभाग की ओर से संचालित किया जाता है।