मस्जिद में नाबालिग से दुष्कर्म, सांप्रदायिक तनाव की स्थिति को पुलिस ने संभाला

मस्जिद में नाबालिग दुष्कर्म, सांप्रदायिक तनाव
मस्जिद में नाबालिग से दुष्कर्म, सांप्रदायिक तनाव की स्थिति को पुलिस ने संभाला

फैजाबाद। यूपी के फैजाबाद शहर कोतवाली क्षेत्र में गुरुवार को नाबालिग से बलात्कार का मामला सामने आया है। आरोप है कि बलात्कारी युवक ने घर से बाजार की ओर जा रही 12 वर्षीय किशोरी को बीच रास्ते में रोका और बहला फुसला कर एक मस्जिद के भीतर ले जाकर उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। इस बात की जानकारी लोगों को उस समय हुई जब पीड़िता मस्जिद से चीखते हुए बाहर निकली। किशोरी की हालत देखकर आस पास लोगों की भीड़ जमा हो गई। आरोपी युवक भीड़ का फायदा उठाते हुए मौके से भाग निकला।

Minor Girl Rape In Faizabad :

मिली जानकारी के मुताबिक यह वारदात नियांवां इलाके की है। किशोरी के साथ मस्जिद में दुष्कर्म होने की जानकारी इलाके में आग की तरह फैली और कुछ ही समय में सड़कों पर हजारों की संख्या में लोग जमा हो गए। मामला धार्मिक स्थल से जुड़ा हुआ होने के कारण इलाके में सांप्रदायिक तनाव फैल गया। एक गुट ने मस्जिद को सीज करने की मांग की।

बताया जा रहा है कि पुलिस ने मौके पर पहुंच कर दोनों पक्षों के लोगों को शांत रहने की अपील करते हुए आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।इसके बावजूद लोगों में घटना को लेकर गुस्सा देखने को मिल रहा है। स्थानीय लोग पुलिस पर संप्रदाय विशेष के खिलाफ कार्रवाई करने से बचने का आरोप लगा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वॉयरल हो रही तस्वीरें—

इस घटना के बाद सड़कों पर उतरे लोगों की कुछ तस्वीरें वारदात की जानकारी के साथ सोशल मीडिया पर डाली गईं हैं। जिसमें एक समुदाय के लोग दूसरे समुदाय के प्रति पुलिस की नरमी को लेकर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। लोगों का आरोप है कि आरोपी संप्रदाय विशेष से आता है और उसने नाबालिग को ​संप्रदाया विशेष के धार्मिक स्थल में ले जाकर दुष्कर्म का प्रयास किया है। पुलिस संप्रदाय विशेष की धार्मिक आस्था को अपराध से ज्यादा गंभीरता से ले रही है।

क्या कहना है फैजाबाद पुलिस का—

इस घटना के विषय में जानकारी के लिए टीम पर्दाफाश ने फैजाबाद के पुलिस अधिक्षक से उनके सीयूजी मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन कॉल नहीं उठी।

फैजाबाद। यूपी के फैजाबाद शहर कोतवाली क्षेत्र में गुरुवार को नाबालिग से बलात्कार का मामला सामने आया है। आरोप है कि बलात्कारी युवक ने घर से बाजार की ओर जा रही 12 वर्षीय किशोरी को बीच रास्ते में रोका और बहला फुसला कर एक मस्जिद के भीतर ले जाकर उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। इस बात की जानकारी लोगों को उस समय हुई जब पीड़िता मस्जिद से चीखते हुए बाहर निकली। किशोरी की हालत देखकर आस पास लोगों की भीड़ जमा हो गई। आरोपी युवक भीड़ का फायदा उठाते हुए मौके से भाग निकला।मिली जानकारी के मुताबिक यह वारदात नियांवां इलाके की है। किशोरी के साथ मस्जिद में दुष्कर्म होने की जानकारी इलाके में आग की तरह फैली और कुछ ही समय में सड़कों पर हजारों की संख्या में लोग जमा हो गए। मामला धार्मिक स्थल से जुड़ा हुआ होने के कारण इलाके में सांप्रदायिक तनाव फैल गया। एक गुट ने मस्जिद को सीज करने की मांग की।बताया जा रहा है कि पुलिस ने मौके पर पहुंच कर दोनों पक्षों के लोगों को शांत रहने की अपील करते हुए आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।इसके बावजूद लोगों में घटना को लेकर गुस्सा देखने को मिल रहा है। स्थानीय लोग पुलिस पर संप्रदाय विशेष के खिलाफ कार्रवाई करने से बचने का आरोप लगा रहे हैं।सोशल मीडिया पर वॉयरल हो रही तस्वीरें—इस घटना के बाद सड़कों पर उतरे लोगों की कुछ तस्वीरें वारदात की जानकारी के साथ सोशल मीडिया पर डाली गईं हैं। जिसमें एक समुदाय के लोग दूसरे समुदाय के प्रति पुलिस की नरमी को लेकर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। लोगों का आरोप है कि आरोपी संप्रदाय विशेष से आता है और उसने नाबालिग को ​संप्रदाया विशेष के धार्मिक स्थल में ले जाकर दुष्कर्म का प्रयास किया है। पुलिस संप्रदाय विशेष की धार्मिक आस्था को अपराध से ज्यादा गंभीरता से ले रही है।क्या कहना है फैजाबाद पुलिस का—इस घटना के विषय में जानकारी के लिए टीम पर्दाफाश ने फैजाबाद के पुलिस अधिक्षक से उनके सीयूजी मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन कॉल नहीं उठी।