‘एवरेस्ट’ फतह के बाद मौत से हार गया यूपी का पर्वतारोही रवि कुमार

लखनऊ| माउंट एवरेस्ट फतह करने के बाद से लापता हुए यूपी के मुरादाबाद के रहने वाले पर्वतारोही रवि कुमार का शव बरामद हुआ है| पर्यटन विभाग के महानिदेशक दिनेश भट्टाराई ने कहा कि रवि कुमार शिखर से उतरने के दौरान 200 मीटर की ऊंचाई से गिर गए थे, जिससे उनकी मौत हो गई| उन्होंने कहा कि रवि कुमार की तलाश में जुटे बचाव कर्मियों को उनके लापता होने के 36 घंटे बाद शव मिला| रवि ने शनिवार दोपहर करीब डेढ़ बजे सफलतापूर्वक 8,848 मीटर ऊंचे एवरेस्ट को फतह किया था| इसके बाद शिकझर से नीचे उतरने के दौरान वह लापता हो गए थे| बताया गया कि आखिरी बार बालकनी इलाके में उनसे संपर्क हुआ था| यह इलाका शिखर की चढ़ाई से पहले पर्वतारोहियों के आराम करने का अंतिम स्थान है|



मुरादाबाद जनपद के भोला सिंह की मिलक निवासी पर्वतारोही रवि कुमार दुनिया की कई चोटियों पर तिरंगा फहरा चुके हैं| इससे पहले रवि के लापता होने के बाद उनके पिता हरकेश ने कहा था कि 21 मार्च को रवि मुरादाबाद से रवाना हुए थे| उन्होंने बताया, “20 मई को सूचना आई थी कि रवि ने तिरंगा फहरा दिया है लेकिन उसके बाद कोई सूचना नहीं मिली| अभी सूचना मिली है कि उसका मोबाइल मिल गया है| उसे कहीं किसी पेड़ पर फंसा हुआ बताया जा रहा है| ईश्वर उसकी रक्षा करे, मैं सभी देशवासियों से उम्मीद करता हूं कि वे उसके लिए दुआएं करें और वह सही सलामत घर वापस आ जाए|”



उधर, रवि के बड़े भाई मनोज ने बताया था कि पिछली बार रवि से 16 मई को बात हुई थी और आज पता चला है कि जो 5 लोग दल में थे, उनमें से 3 वापस आ गए हैं, लेकिन रवि का पता नहीं चल रहा है और हमसे किसी भी प्रशासनिक अधिकारी ने अभी तक कोई संपर्क नहीं किया है| रवि कुमार ने देश के लिए कई जगह अपनी जीत का तिरंगा फहराया है, माउंट एवरेस्ट भी ये तीसरी बार गए थे| इन्होंने देश का नाम रौशन किया है|

Loading...