एलओसी पर घुसपैठ कर रहे तीन आतंकियों को सेना ने मार गिराया

enconter at LOC
एलओसी पर घुसपैठ कर रहे तीन आतंकियों को सेना ने मार गिराया

जम्मू। पाकिस्तान की ओर से सरकार बदलने के बाद भी नापाक हरकतें जारी हैं। इमरान खान के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के कुछ ही देर बाद भारतीय सीमा में तीन आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की। इस कोशिश को नाकाम कर भारतीय सुरक्षा बलों ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया।

Mititary Shot Down Three Terrorist At Loc Last Night :

सेना द्वारा जारी बयान में बताया गया कि शनिवार रात सुरक्षा बलों ने तंगधार में नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे तीन आतंकियों को ढेर कर दिया। इस हरकत के बाद से कहा जा रहा है कि पाकिस्तान में सरकार बदलने के बाद भी उसके रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। वो अब भी सरहद के पास माहौल बिगाड़ रहा है।

बता दें कि इसी सप्ताह गुरुवार को एक ऑपरेशन के दौरान जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास सेना ने हथियारों और गोला-बारूद का बड़ा जखीरा बरामद किया था। सूत्रों के मुताबिक देश के स्वतंत्रता दिवस पर भी आतंकियों ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की थी, लेकिन सुरक्षाबलों ने इसे नाकाम कर दिया था। इसमें एक जवान घायल हुआ था।

पाकिस्तान ने भारत में घुसपैठ रोकने के साथ-साथ आतंकियों की जानकारी साझा करने का प्रस्ताव भी दिया है। हालांकि, यह प्रस्ताव नया नहीं है। इससे पहले साल 2006 में दोनों मुल्कों ने आंतक विरोध कार्यक्रम के तहत ऐसी जानकारी साझा करनी की रणनीति बनाई थी, लेकिन यह सफल नहीं हुई।

जम्मू। पाकिस्तान की ओर से सरकार बदलने के बाद भी नापाक हरकतें जारी हैं। इमरान खान के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के कुछ ही देर बाद भारतीय सीमा में तीन आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की। इस कोशिश को नाकाम कर भारतीय सुरक्षा बलों ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया। सेना द्वारा जारी बयान में बताया गया कि शनिवार रात सुरक्षा बलों ने तंगधार में नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे तीन आतंकियों को ढेर कर दिया। इस हरकत के बाद से कहा जा रहा है कि पाकिस्तान में सरकार बदलने के बाद भी उसके रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। वो अब भी सरहद के पास माहौल बिगाड़ रहा है। बता दें कि इसी सप्ताह गुरुवार को एक ऑपरेशन के दौरान जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास सेना ने हथियारों और गोला-बारूद का बड़ा जखीरा बरामद किया था। सूत्रों के मुताबिक देश के स्वतंत्रता दिवस पर भी आतंकियों ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की थी, लेकिन सुरक्षाबलों ने इसे नाकाम कर दिया था। इसमें एक जवान घायल हुआ था। पाकिस्तान ने भारत में घुसपैठ रोकने के साथ-साथ आतंकियों की जानकारी साझा करने का प्रस्ताव भी दिया है। हालांकि, यह प्रस्ताव नया नहीं है। इससे पहले साल 2006 में दोनों मुल्कों ने आंतक विरोध कार्यक्रम के तहत ऐसी जानकारी साझा करनी की रणनीति बनाई थी, लेकिन यह सफल नहीं हुई।