विधायक अदिति बोली-पिता ने तय की थी शादी, अंगद को पहले से नही जानती थी

Aditi and Angad married
विधायक अदिति बोली-पिता ने तय की थी शादी, अंगद को पहले से नही जानती थी

रायबरेली। कांग्रेस पार्टी से रायबरेली सदर विधायक अदिति सिंह की जबसे पंजाब के कांग्रेस विधायक अंगद से शादी तय हुई तबसे सोशल मीडिया पर तरह तरह की अफवाहे चल रही हैं। लेकिन ​अदिति सिंह ने सारी अफवाहों को एक बयान से समाप्त कर दिया। ​अदिति सिंह ने कहा कि ये शादी उनके पिता ने तय की थी, उनकी अंगद से पहले से कोई जान पहचान नही थी।

Mla Aditi Bid Father Had Decided To Marry Did Not Know Angad Before :

अदिति सिंह का कहना है कि दोनों परिवारों की रजामंदी से शादी तय की गई है। उनका कहना है कि अंगद से न तो पहले से कोई जान पहचान और न ही उनका कोई अफेयर था। आपको बता दें कि कल 21 नवम्बर को अंगद और अदिति की दिल्ली में शादी है। अदिति सिंह ने यह भी बताया कि पिता की मौत से पहले शादी तय हुई थी, पिता अखिलेश ने कहा था कि शादी रूकनी नही चाहिए इसीलिए वो पिता की म्रत्यु के 3 माह के अन्दर ही साधारण तरीके से शादी कर रही हैं।

गौरतलब​ है कि रायबरेली जिले के बाहूबली नेता रहे स्व्0 अखिलेश सिंह की कुछ माह पहले ही बीमारी के चलते म्रत्यु हुई है। रायबरेली में अखिलेश ​सिंह का कई दशक तक बर्चस्व रहा है, अखिलेश रायबरेली सदर क्षेत्र से कई बार विधायक बने लेकिन बीमारी की वजह से 2017 में उन्होने अपनी बेटी अदिति सिंह को मैदान में उतारा। अदिति सिंह कांग्रेस पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ीं और लगभग 90 हजार वोटों से जीत दर्ज की। अदिति के होने वाले पति अंगद का भी परिवार काफी लम्बे समय से राजनीति में रहा है और अंगद वर्तमान में कांग्रेस से विधायक हैं।

अदिति सिंह काक कहना है कि भले ही वो दूसरे प्रदेश के रहने वाले अंगद से शादी कर रही हैं लेकिन उनका रायबरेली से हमेशा उसी तरह रिश्ता रहेगा। वह पहले की तरह ही हमेशा रायबरेली की जनता की सेवा करती रहेंगी। क्षेत्र की जनता की समस्या सुनना और उन्हें दूर कराना उनकी प्राथमिकता रहेगी। दोनो की शादी की दिल्ली में तैयारियां चल रही है, अनुमान है कि इस शादी में भाजपा और कांग्रेस के कई दिग्गज नेता मौजूद रहेंगे।

रायबरेली। कांग्रेस पार्टी से रायबरेली सदर विधायक अदिति सिंह की जबसे पंजाब के कांग्रेस विधायक अंगद से शादी तय हुई तबसे सोशल मीडिया पर तरह तरह की अफवाहे चल रही हैं। लेकिन ​अदिति सिंह ने सारी अफवाहों को एक बयान से समाप्त कर दिया। ​अदिति सिंह ने कहा कि ये शादी उनके पिता ने तय की थी, उनकी अंगद से पहले से कोई जान पहचान नही थी। अदिति सिंह का कहना है कि दोनों परिवारों की रजामंदी से शादी तय की गई है। उनका कहना है कि अंगद से न तो पहले से कोई जान पहचान और न ही उनका कोई अफेयर था। आपको बता दें कि कल 21 नवम्बर को अंगद और अदिति की दिल्ली में शादी है। अदिति सिंह ने यह भी बताया कि पिता की मौत से पहले शादी तय हुई थी, पिता अखिलेश ने कहा था कि शादी रूकनी नही चाहिए इसीलिए वो पिता की म्रत्यु के 3 माह के अन्दर ही साधारण तरीके से शादी कर रही हैं। गौरतलब​ है कि रायबरेली जिले के बाहूबली नेता रहे स्व्0 अखिलेश सिंह की कुछ माह पहले ही बीमारी के चलते म्रत्यु हुई है। रायबरेली में अखिलेश ​सिंह का कई दशक तक बर्चस्व रहा है, अखिलेश रायबरेली सदर क्षेत्र से कई बार विधायक बने लेकिन बीमारी की वजह से 2017 में उन्होने अपनी बेटी अदिति सिंह को मैदान में उतारा। अदिति सिंह कांग्रेस पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ीं और लगभग 90 हजार वोटों से जीत दर्ज की। अदिति के होने वाले पति अंगद का भी परिवार काफी लम्बे समय से राजनीति में रहा है और अंगद वर्तमान में कांग्रेस से विधायक हैं। अदिति सिंह काक कहना है कि भले ही वो दूसरे प्रदेश के रहने वाले अंगद से शादी कर रही हैं लेकिन उनका रायबरेली से हमेशा उसी तरह रिश्ता रहेगा। वह पहले की तरह ही हमेशा रायबरेली की जनता की सेवा करती रहेंगी। क्षेत्र की जनता की समस्या सुनना और उन्हें दूर कराना उनकी प्राथमिकता रहेगी। दोनो की शादी की दिल्ली में तैयारियां चल रही है, अनुमान है कि इस शादी में भाजपा और कांग्रेस के कई दिग्गज नेता मौजूद रहेंगे।