त्रिपुरा : दुराचार का मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला से विधायक ने की शादी

ipft mla
त्रिपुरा : दुराचार का मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला से विधायक ने की शादी

नई दिल्ली। त्रिपुरा में सत्तारूढ़ भाजपा नीत गठबंधन में सहयोगी आईपीएफटी के विधायक धनंजय ने आखिरकार उस महिला से शादी कर ली, जिसने कुछ दिनों पहले विधायक के खिलाफ दुराचार और धोखा देने का मामला दर्ज कराया था। आरोप लगाने वाली महिला से शादी करने के बाद विधायक ने पत्रकारों से कहा कि ”हां, मैंने अगरतला के चतुरदास देवता मंदिर में महिला से शादी कर ली है।

Mla Dhananjoy Ties The Knot With Girl Who Had Lodged Rape Case :

विधायक धनंजय के वकील अमित देबबर्मा ने कहा कि विधायक का विवाह रविवार को चतुरदास देवता मंदिर में संपन्न हुआ। वहीं उन्होने बताया कि दोनों पक्षों में समझौता हो गया है, अब वो दोनों लोग किसी के खिलाफ कोई मामला नहीं दर्ज कराएंगे। वकील के मुताबिक नवविवाहिता ढलाई जिले के गंडाचेरा में हंसी—खुशी रह रही है। मैरिज सर्टीफिकेट के लिए मंगलवार को शादी के कागजात संबंधित प्राधिकारी को सौंप दिये जायेंगे।

बता दें कि महिला ने बीते 20 मई को अगरतला महिला थाना में शिकायत दर्ज कराते हुये बताया था कि वो विधायक के साथ सामा​जिक रूप से जुड़ी थी, लेकिन विधायक ने उसके साथ शारीरिक सम्बंध बनाए और बाद में उसके साथ शादी करने से इंकार कर दिया। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर​ विधायक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। त्रिपुरा उच्च न्यायालय ने एक जून को विधायक की अंतरिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी।

नई दिल्ली। त्रिपुरा में सत्तारूढ़ भाजपा नीत गठबंधन में सहयोगी आईपीएफटी के विधायक धनंजय ने आखिरकार उस महिला से शादी कर ली, जिसने कुछ दिनों पहले विधायक के खिलाफ दुराचार और धोखा देने का मामला दर्ज कराया था। आरोप लगाने वाली महिला से शादी करने के बाद विधायक ने पत्रकारों से कहा कि ''हां, मैंने अगरतला के चतुरदास देवता मंदिर में महिला से शादी कर ली है। विधायक धनंजय के वकील अमित देबबर्मा ने कहा कि विधायक का विवाह रविवार को चतुरदास देवता मंदिर में संपन्न हुआ। वहीं उन्होने बताया कि दोनों पक्षों में समझौता हो गया है, अब वो दोनों लोग किसी के खिलाफ कोई मामला नहीं दर्ज कराएंगे। वकील के मुताबिक नवविवाहिता ढलाई जिले के गंडाचेरा में हंसी—खुशी रह रही है। मैरिज सर्टीफिकेट के लिए मंगलवार को शादी के कागजात संबंधित प्राधिकारी को सौंप दिये जायेंगे। बता दें कि महिला ने बीते 20 मई को अगरतला महिला थाना में शिकायत दर्ज कराते हुये बताया था कि वो विधायक के साथ सामा​जिक रूप से जुड़ी थी, लेकिन विधायक ने उसके साथ शारीरिक सम्बंध बनाए और बाद में उसके साथ शादी करने से इंकार कर दिया। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर​ विधायक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। त्रिपुरा उच्च न्यायालय ने एक जून को विधायक की अंतरिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी।