रायबरेली सदर विधायक अदिति सिंह बनेंगी दुल्हनियां, पंजाब कांग्रेस विधायक से 21 नवंबर को होगी शादी

aditi congress
रायबरेली सदर से विधायक अदिति सिंह बनेंगी दुल्हनियां, पंजाब कांग्रेस विधायक से 21 नवंबर को होगी शादी

रायबरेली। रायबरेली से सदर कांग्रेस विधायक अदिति सिंह दु​ल्हनियां बनने जा रहीं हैं। 21 नवंबर को वह पंजाब कांग्रेस विधायक अंगद सिंह सैनी से शादी के बंधन में बधेंगी। यह रिश्ता अदिति सिंह के पिता पूर्व विधायक स्वर्गीय अखिलेश सिंह ने तय किया था। नई दिल्ली में 21 नवंबर को विवाह के बाद रिशेप्शन 23 नवंबर को चंडीगढ़ में होगा। समारोह का आयोजन 20 नवंबर को मेहंदी की रस्म से शुरू हो जाएगा।

Mla From Rae Bareli Sadar Aditi Singh To Be Married Will Marry Punjab Congress Mla On November 21 :

बता दें कि, सरकार अंगद सिंह सैनी और अदिति सिंह 2017 में पहली बार विधायक बने। दोनों को ही रजानीतिक विरासत मिली है। अंगद ने 2017 में अपनी राजनीति कैरियर की शुरुआत की और शहीद भगत नगर विधानसभा क्षेत्र से जीत हासिल की। युवा विधायक अंगद सैनी, स्वर्गीय दिलबाग सिंह के परिवार से हैं, जिन्होंने रिकॉर्ड छह बार नवांशहर सीट जीती।

वहीं आदिति सिंह कांग्रेस के टिकट पर पहली बार रायेबरली सीट से विधायक बनीं। इनके पिता स्वर्गीय अखिलेश सिंह विभिन्न दलों से पांच बार रायबरेली सदर से चुनाव जीते थे। अदिति सिंह उत्तर प्रदेश में सबसे युवा विधायकों में से एक हैं।

उन्होंने 2017 में रायबरेली सदर सीट से करीब 90,000 से अधिक वोटों के साथ जीत दर्ज की थी। बताया जा रहा है कि अदिति सिंह की सगाई बीते दिसंबर में पंजाब से कांग्रेस विधायक अंगद सैनी के साथ हुई। अदिति सिंह ने कहा कि यह शादी उनके पिता ने तय की थी। दोनों परिवार राजनीति में दशकों से है।

रायबरेली। रायबरेली से सदर कांग्रेस विधायक अदिति सिंह दु​ल्हनियां बनने जा रहीं हैं। 21 नवंबर को वह पंजाब कांग्रेस विधायक अंगद सिंह सैनी से शादी के बंधन में बधेंगी। यह रिश्ता अदिति सिंह के पिता पूर्व विधायक स्वर्गीय अखिलेश सिंह ने तय किया था। नई दिल्ली में 21 नवंबर को विवाह के बाद रिशेप्शन 23 नवंबर को चंडीगढ़ में होगा। समारोह का आयोजन 20 नवंबर को मेहंदी की रस्म से शुरू हो जाएगा। बता दें कि, सरकार अंगद सिंह सैनी और अदिति सिंह 2017 में पहली बार विधायक बने। दोनों को ही रजानीतिक विरासत मिली है। अंगद ने 2017 में अपनी राजनीति कैरियर की शुरुआत की और शहीद भगत नगर विधानसभा क्षेत्र से जीत हासिल की। युवा विधायक अंगद सैनी, स्वर्गीय दिलबाग सिंह के परिवार से हैं, जिन्होंने रिकॉर्ड छह बार नवांशहर सीट जीती। वहीं आदिति सिंह कांग्रेस के टिकट पर पहली बार रायेबरली सीट से विधायक बनीं। इनके पिता स्वर्गीय अखिलेश सिंह विभिन्न दलों से पांच बार रायबरेली सदर से चुनाव जीते थे। अदिति सिंह उत्तर प्रदेश में सबसे युवा विधायकों में से एक हैं। उन्होंने 2017 में रायबरेली सदर सीट से करीब 90,000 से अधिक वोटों के साथ जीत दर्ज की थी। बताया जा रहा है कि अदिति सिंह की सगाई बीते दिसंबर में पंजाब से कांग्रेस विधायक अंगद सैनी के साथ हुई। अदिति सिंह ने कहा कि यह शादी उनके पिता ने तय की थी। दोनों परिवार राजनीति में दशकों से है।