विधायक मेजर सुनील दत्त ने पेश की मिशाल, घायल को पीठ पर उठाया

विधायक मेजर सुनील दत्त ने पेश की मिशाल, घायल को पीठ पर उठाया

लखनऊ। हम और आप सुनते आए हैं कि जनता से सेवा के वादे और दावे करने वाले नेता चुनाव जीतने के बाद गायब हो जाते हैं। जनता को जब नेता जी की याद आती है तो ईनामी पोस्टर लगवाने पड़ते हैं। लेकिन वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में भी ऐसे नेता मौजूद है जो जनप्रति​निधि के रूप में अपने कर्तव्यों का पालन पूरी तत्पर्रता से कर रहे हैं।

ऐसे ही एक नेता है फर्रुखाबाद के विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी। जिन्होंने सड़क से गुजरते समय सड़क हादसे को देखकर न केवल रुकने की जहमत उठाई, बल्कि घायलों को अपने निजी वाहन से अस्पताल तक पहुंचाने और भर्ती करवाने तक का काम ​किया। इस दौरान अस्पताल में एक घायल के लिए खाली स्ट्रेचर नहीं मिला तो विधायक जी ने उसे अपनी गाड़ी से पीठ पर उठा लिया। अस्पताल के बाहर मौजूद लोगों ने जब विधायक को ऐसा करते देखा तो कुछ लोगों ने विधायक जी को ऐसा करता देख उनका वीडियो बना लिया।

{ यह भी पढ़ें:- मासूमों की कब्रगाह बने सरकारी अस्पताल, यूपी के बाद महाराष्ट्र में 55 नवजातों की थमी सांसे }

प्रत्यक्ष​दर्शियों की माने तो फर्रुखाबाद—फतेहगढ़ मार्ग पर नेकपुर के सामने दो बाइकें आपस में टकरा गईं, इसी दौरान मौके से गुजर रहे विधायक की नजर पड़ी और उन्होंने बिना समय गंवाए घायल हुए तीन लोगों को अपनी गाड़ी से राम मनोहर लोहिया जिला अस्पताल तक पहुंचाया। घायलों के साथ पहुुंचे विधायक को देखते ही अस्पताल में ड्यूटी पर तैनात डाक्टरों ने तुरंत उपचार शुरू कर दिया।

आपको बता दें कि फर्रुखाबाद से भाजपा विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी को जमीनी नेता माना जाता है। भारतीय सेना में अपनी सेवाएं दे चुके मेजर प्रदेश के दिग्गज भाजपा नेता रहे स्वर्गीय ब्रह्मदत्त द्विवेदी के बेटे हैं। उनकी मां स्वर्गीय प्रभा द्विवेदी प्रदेश सरकार में शिक्षामंत्री रह चुकी हैं। एक बड़े राजनीतिक पृष्ठभूमि रखने वाले सुनील दत्त बेहद सरल स्वभाव वाले और सादगी पसंद व्यक्ति हैं। वे अपने साथ समर्थकों का हुजूम लेकर चलने के बजाय अकेले ही अपने क्षेत्र का दौरा करते मिल जाते हैं।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी में दो बड़े रेल हादसे टले, शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे डिरेल }